ट्विटर (Twitter) ने भारत में लागू किए गए नए सूचना प्रौद्योगिकी नियमों पर कहा कि कंपनी ने अंतरिम मुख्य अनुपालन अधिकारी नियुक्त किया है. कंपनी ने बयान जारी कर कहा है कि जल्द ही अधिकारी का ब्यौरा सीधे सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के साथ साझा किया जाएगा. सरकार ने Twitter को दिए एक नोटिस में कहा था कि उसे नियमों के अनुपालन का आखिरी मौका दिया जाता है. उसे तत्काल नियमों का अनुपालन करना है. अगर वह इसमें विफल रहती है, तो उसे IT कानून के तहत दायित्व से जो छूट मिली है, वह वापस ले ली जाएगी. इसके साथ ही उसे IT कानून और अन्य दंडात्मक प्रावधानों के तहत कार्रवाई के लिए तैयार रहना होगा.Also Read - ट्विटर के एमडी को बड़ी राहत, कर्नाटक हाईकोर्ट ने खारिज किया गाजियाबाद पुलिस का पेशी वाला नोटिस

इसके बाद ट्विटर ने पिछले हफ्ते सरकार को पत्र लिखकर आश्वासन दिया था कि वह नये सूचना प्रौद्योगिकी नियमों के अनुरूप मुख्य अनुपालन अधिकारी की नियुक्ति करने के अंतिम चरण में है और सरकार को एक हफ्ते के भीतर अतिरिक्त ब्यौरा दे दिया जाएगा. एक आधिकारिक सूत्र ने यह जानकारी दी. मंगलवार को ट्विटर के एक प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी नए दिशानिर्देशों का पालन करने की हर कोशिश कर रही है और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय को प्रक्रिया के हर कदम पर प्रगति की जानकारी दी जा रही है. Also Read - अपने सोशल मीडिया अकाउंट को कैसे रखें सुरक्षित, हैक होने से बचने के लिए अपनाएं ये तरीके

उन्होंने कहा कि एक अंतरिम मुख्य अनुपालन अधिकारी नियुक्त किया गया है और इससे जुड़ा ब्यौरा जल्द ही मंत्रालय के साथ साझा किया जाएगा. ट्विटर का यह कदम महत्वपूर्ण है, क्योंकि माइक्रोब्लॉगिंग साइट को IT नियमों का पालन करने में देरी के चलते सरकार के कड़े रुख का सामना करना पड़ रहा था. नये नियमों के तहत बड़े डिजिटल मंचों को अपने मंच पर डाले जाने वाली सामग्री को लेकर अधिक जवाबदेह बनना होगा. Also Read - Jalebi Tweet Viral: IPS अधिकारी ने कहा, बीवी जलेबी नहीं खाने देती...ट्वीट पर पत्नी का जवाब- आज आप घर आओ...

नये नियमों के तहत ट्विटर, फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप जैसे बड़े सोशल मीडिया मंचों को अतिरिक्त उपाय करने की जरूरत होगी. इसमें भारत में मुख्य अनुपालन अधिकारी, नोडल अधिकारी और शिकायत अधिकारी की नियुक्ति आदि शामिल हैं.

(इनपुट: भाषा)