नई दिल्ली: ट्विटर इंडिया ने टाइमलाइंस पर जम्मू एवं कश्मीर को पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना का हिस्सा बता दिया, जिससे एक बड़ा विवाद पैदा हो गया. इस मामले को ऑब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन की फेलो कंचन गुप्ता ने उठाया. उन्होंने पाया कि ट्वीट्स में जम्मू-कश्मीर को चीन का हिस्सा बताया जा रहा है. Also Read - कोरोना के चलते काली हो गई थी चीन के इस डॉक्टर की त्वचा, अब नॉर्मल होकर लौटा; साथी गंवा चुका है जान

गुप्ता ने दूरसंचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद को टैग करते हुए लिखा, “तो ट्विटर ने जम्मू एवं कश्मीर के भूगोल को बदलने का निर्णय लिया है और जम्मू एवं कश्मीर को पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना के हिस्से के रूप में दिखाने का निर्णय किया है. क्या यह भारत के कानून का उल्लंघन नहीं है? भारत में तो लोगों को छोटी-छोटी बातों पर सताया जाता है. क्या अमेरिका की बिग टेक कंपनी कानून से ऊपर है?” Also Read - महबूबा मुफ्ती और फारूक अब्दुल्ला को भारत में रहने का अधिकार नहीं: केंद्रीय मंत्री

कई नैटिजंस ने प्रसाद और सरकार से ट्विटर इंडिया के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कहा. एक नेटिजन ने कहा, “ट्विटर इंडिया.. तो आपके अनुसार, लेह पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना का हिस्सा है.” वहीं एक अन्य ने प्रसाद से मामले में कार्रवाई का आग्रह करते हुए कहा, “कृपया इस मामले को देखें और उचित कार्रवाई करें. यह उचित समय है कि इस बड़े सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को इसकी मूर्खता के लिए सबक सिखाया जाए.” Also Read - माइक पॉम्पिओ का बयान- भारत और US को मिलकर चीन का मुकाबला करने की जरूरत

(इनपुट आईएएनएस)