कोलकाता: भारत के एयरपोर्ट अथॉरिटी (एएआई) के अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि भारत और बांग्लादेश के सीमावर्ती हवाई क्षेत्र में बुधवार को बीच हवा में इंडिगो के दो विमान इतने करीब आ गए थे कि वे टकराते टकराते बचे. संभावित टक्कर से केवल 45 सेकंड पहले, कोलकाता में एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) सेंटर ने एक विमान को दाहिनी ओर मुड़ने और दूसरे विमान से दूर जाने का निर्देश दिया, जो उसी ऊंचाई पर आ रहा था. Also Read - इंडिगो, एयर एशिया ने ट्रैवल एजेंटों को टिकट रिफंड देना शुरू किया: ट्रैवल पोर्टल

Also Read - Flight Booking Start: एयरलाइन कंपनियों ने जून से बुकिंग शुरू की, जानें डिटेल्स...

छत्तीसगढ़: कांग्रेस ने सभी 90 विधानसभा सीटों के लिए घोषित किए उम्मीदवार, रेणु जोगी को नहीं मिला टिकट Also Read - Domestic Flight Booking/Air India/Air Asia/Indigo: फिर से उड़ानें शुरू करने की तैयारियां पूरी, जानें क्या हैं नए बदलाव

कोलकाता में एक एटीसी अधिकारी ने इसे देखा और तत्काल चेन्नई-गुवाहाटी उड़ान को दाहिनी ओर मोड़ने और उतरने वाले विमान के रास्ते से दूर जाने का आदेश दिया, जिससे आपदा टल गई. इंडिगो प्रवक्ता ने संपर्क करने पर बताया, “हमारे पास अब तक ऐसी कोई जानकारी नहीं है.”

कांग्रेस तेलंगाना में 95 सीटेंं और सहयोगी दल 24 पर लड़ेंगे चुनाव, 8 या 9 को जारी होगी लिस्‍ट

कोलकाता एयरपोर्ट एक सीनियर अधिकारी ने फोन पर बताया, “कम लागत वाले वाहक इंडिगो से जुड़े दोनों विमान बुधवार की शाम को एक ही ऊंचाई पर आ गए थे और एक दूसरे के लिए खतरा बन गए थे.” उन्होंने बताया, “एक विमान चेन्नई से गुवाहाटी जा रहा था और दूसरा गुवाहाटी से कोलकाता जा रहा था. विमान शाम पांच बजकर दस मिनट पर दूसरे के बेहद करीब आ गए थे.” उस समय, कोलकाता की उड़ान बांग्लादेश हवाई क्षेत्र में 36,000 फीट की ऊंचाई पर और दूसरा विमान भारतीय हवाई क्षेत्र में 35,000 फीट की ऊंचाई पर था .

बीजेपी के खिलाफ तीसरा मोर्चा खड़ा करने के लिए नायडू, पवार और फारुक मिले, दिल्‍ली में सियासी पारा चढ़ा

अधिकारी ने बताया कि बांग्लादेश एटीसी ने कोलकाता की उड़ान से 35,000 फीट तक आने के लिए कहा था और जब विमान ने आदेश का पालन किया तो यह उस विमान के बेहद करीब आ गया था जो 35,000 फीट की ऊंचाई पर उड़ रहा था .

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव: नक्सल प्रभावित इलाकों की 18 सीटों पर सभी दलों की नजर