श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के गांदेरबल जिले में बुधवार को आतंकवादियों के हमले में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के दो जवान शहीद हो गए. उनके हथियार भी लूट लिए गए हैं. आतंकी हमले के बाद के तुरंत बाद सुरक्षा बलों इलाके को घेर लिया गया है और सर्च अभियान शुरू कर दिया है. अभी घटना के बारे में विस्‍तृत जानकारी आ रही है. Also Read - J&k: कश्मीर के कुलगाम में आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़, दो आतंकी हुए ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि आतंकवादियों ने सीमा सुरक्षा बल की टीम पर गोलीबारी की, जिसमें दो जवान घायल हो गए. इसके बाद दोनों जवानों को अस्पताल ले जाया गया, इसी बीच घायल दोनों जवानों ने दम तोड़ दिया. मिली जानकारी के मुताबिक शहीद बीएएसएफ जवानों के हथियार भी आतंकी लूटकर ले गए हैं. Also Read - जम्मू कश्मीर: पाकिस्तान से आया संदिग्ध कबूतर पकड़ा गया, कूट भाषा में लिखे संदेश को समझने की कोशिश कर रहे अधिकारी

पुलिस अधिकारी ने बताया इलाके को घेर लिया गया है और हमलावरों को पकड़ने के लिए तलाश अभियान शुरू किया गया है.

एक दिन पहले सुरक्षाबलों ने दो आतंकी मारे थे
बता दें कि जम्मू कश्मीर में श्रीनगर के घनी आबादी वाले इलाके में मंगलवार को, सुरक्षा बलों के साथ 15 घंटे चली मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए थे. इनमें से एक जुनैद अशरफ खान ‘सेहराई’ है, जिसका पिता अलगाववादी गुट तहरीक-ए-हुर्रियत का प्रमुख है.

एलओसी के पार 300 से ज्यादा आतंकी घुसपैठ की ताक में, भीतरी क्षेत्र में 240 आतंकी सक्रिय
जम्मू कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने मंगलवार को कहा कि एलओसी के पार पीओके में आतंकी ठिकाने में 300 से ज्यादा आतंकवादी मौजूद हैं और वे भारत में घुसपैठ करने की फिराक में हैं. उन्‍होंने कहा था कि जम्मू कश्मीर में घुसपैठ करने के इरादे से उस तरफ बड़ी संख्या में आतंकवादी जमा हैं. कश्मीर घाटी में घुसपैठ की करीब चार घटनाएं पहले ही हो चुकी हैं और राजौरी-पुंछ इलाके में इस तरह के दो-तीन प्रयास हुए हैं.

150- 200 आंतकी पीओके में एलओसी के पस है
डीजीपी ने कहा था, हमारी एजेंसियों के नवीनतम आकलन के मुताबिक कश्मीर की तरफ (पीओके में एलओसी के पास आतंकी ठिकाने में) आतंकवादियों की अनुमानित संख्या 150 से 200 के करीब है और इस तरफ (जम्मू क्षेत्र) 100 से 125 आतंकवादी हैं” आतंकवादियों के चार समूह जम्मू कश्मीर में घुसपैठ करने में कामयाब रहे हैं.

30 आतंकवादियों द्वारा घुसपैठ की रिपोर्ट मिली
डीजीपी ने कहा था, अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) के संबंध में मौजूदा वर्ष के दौरान दो से तीन आतंकवादी समूहों ने घुसपैठ किया है. पाकिस्तान की नापाक हरकत जारी है. इस साल जम्मू कश्मीर में 30 आतंकवादियों द्वारा घुसपैठ की रिपोर्ट मिली है. उन्होंने कहा, दोनों तरफ (जम्मू और कश्मीर क्षेत्र) मिलाकर इस साल यह संख्या 30 के करीब हो सकती है. ” उन्होंने कहा, ”यह हमारे लिए चिंता की बात है.”