श्रीनगर: जम्मू कश्मीर के कुलगाम जिले में शनिवार को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि दक्षिण कश्मीर के इस जिले के वानपुरा इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद इलाके की घेराबंदी की गई और तलाश अभियान चलाया गया. Also Read - कश्मीर: कोरोना पॉजिटिव थे कुलगाम मुठभेड़ में मारे गए हिज्बुल के दोनों आतंकी

अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर गोलियां चलाई जिसके बाद जवाबी कार्रवाई की गई. मुठभेड़ में दो आतंकवादी ढेर हो गए. उन्होंने बताया कि अभी आतंकवादियों की पहचान नहीं हुई है और यह भी पता नहीं चला है कि वे किस समूह से जुड़े हुए थे. इलाके में तलाशी अभियान चल रहा है. Also Read - जम्मू-कश्मीर: कुलगाम में हुई मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने मार गिराए दो आतंकवादी, जवान घायल

बता दें कि भारत ने पिछले कुछ दिनों से आतंवादियों के खिलाफ घाटी में अपना अभियान तेज कर दिया है. सुरक्षाबल लगातार आतंकियों के नापाक मंसूबों को नाकाम कर रहे हैं. एनकाउंटर शुरू होने से पहले सुरक्षाबलों को इस बात की जानकारी मिली थी कि घाटी में लश्कर के दो आतंकी छिपे है जिसके बाद तलाशी अभियान शुरू किया गया. अब अधिकारियों की तरफ से यह साफ कर दिया गया है कि दोनों आतंकी हिजबुल मुजाहिद्दीन संगठन के थे. अभी तक मारे गए आतंकियों की पहचान नहीं की गई है.

सुरक्षाबलों ने आतंकियों के घर वालों को बुला कर उन्हें सरेंडर करने लिए कहा. घरवालों ने उनसे अपील की कि वे सेना के सामने अपने हथियार डाल दें और सरेंडर कर दें लेकिन आतंकियों ने उनकी बात नहीं मानी. इसके बाद सुरक्षाबलों ने एनकाउंटर करके उनका खात्मा कर दिया.

दोनों आतंकी जहां छिपे हुए थे वहां से भारी मात्रा में गोला बारूद बरामद किया गया है. अधिकारियों का कहना है कि हमें इनपुट मिला था कि कुछ आतंकी घाटी में छिपे हुए हैं जो कि किसी बड़ी घटना को अंजाम देने वाले है लेकिन हमारे वीर जावानों ने पहले ही उनका खात्म कर दिया.