भोपाल: मध्य प्रदेश पुलिस ने लोगों को अपने प्रेमजाल मे फंसाकर ब्लैकमेल करने वाले बड़े गिरोह का पर्दाफाश करते हुए पांच महिलाओं सहित एक पुरुष को हिरासत में लिया है. तीन महिलाएं और एक पुरुष भोपाल व दो महिलाएं इंदौर से हिरासत में ली गई हैं. पुलिस सूत्रों के अनुसार, एक वरिष्ठ सरकारी इंजीनियर की शिकायत पर इंदौर के पलासिया पुलिस थाने में ब्लैकमेलिंग का मामला दर्ज किया गया था. इसमें आरोप लगाया गया था कि एक महिला उससे दोस्ती करने के बाद उसे ब्लैकमेल करने की कोशिश कर रही है. आरोप के मुताबिक महिला ने कुछ रिकॉर्डिग भी कर ली थीं. प्रारंभिक जांच के बाद मामला इंदौर क्राइम ब्रांच को सौंप दिया गया, जिसने राज्य एटीएस को एक बड़े रैकेट के बारे में बताया.

सूत्रों के अनुसार, हनी ट्रैप की आशंका के बाद एटीएस ने जांच शुरू की. उसके बाद बुधवार रात को भोपाल से तीन महिलाओं और एक पुरुष को हिरासत में लिया गया. यह महिलाएं मीनाल रेसीडेंसी, कोटरा सुल्तानाबाद और रवेरा टाउन से पकड़ी गई. तीनों हाई प्रोफाइल महिलाओं के राजनीतिक संबंध है. एक महिला तो पन्ना जिले से विधायक के आवास में किराए पर रहती है.

कोई भी पुलिस अधिकारी इस मामले में कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं. पुलिस सूत्रों के अनुसार, तीनों महिलाओं को रात को हिरासत में लेकर राजधानी के गोविंदपुरा थाने में लाया गया. उनके पास से लैपटॉप, मोबाइल, महत्वपूर्ण दस्तावेज और संदिग्ध वीडियो रिकॉर्डिंग बरामद की गई है.

सूत्रों के अनुसार, ये महिलाएं कथित तौर पर राजनेताओं और उच्च रैंकिंग वाले सरकारी अधिकारियों का वीडियो बनाकर उन्हें ब्लैकमेल करती थीं। पुलिस ने महिलाओं की पहचान का खुलासा नहीं किया है।