मुंबई: शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के अगले मुख्यमंत्री होंगे. उद्धव ठाकरे 1 दिसंबर को शिवाजी पार्क में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री बनने का मार्ग प्रशस्त करते हुए ‘महा विकास अगाड़ी’ ने मंगलवार शाम उन्हें सर्वसम्मति से अपना नेता चुन लिया. राकांपा प्रमुख शरद पवार ने कहा कि ‘महा विकास अघाडी’ के तीन प्रतिनिधि आज राज्यपाल से मिलेंगे और 1 दिसंबर को मुंबई के शिवाजी पार्क में शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया जाएगा. एनसीपी नेता जयंत पाटिल ने कहा, “हम सभी चाहते हैं कि उद्धव बालासाहेब ठाकरे मुख्यमंत्री के रूप में हमारे गठबंधन का नेतृत्व करें.”

उद्धव ठाकरे का नाम राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बालासाहेब थोरात ने यहां ‘महा विकास अगाड़ी’ की सभी दलों की बैठक में प्रस्तावित किया. इस अवसर पर राकांपा अध्यक्ष शरद पवार, समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अबू आसिम आजमी, स्वाभिमानी शेतकारी संगठन के अध्यक्ष राजू शेट्टी और शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस के अन्य शीर्ष नेता मौजूद रहे.

शिवसेना प्रमुख और ‘महा विकास अघाड़ी’ के सीएम उम्मीदवार उद्धव ठाकरे ने कहा, “मैंने राज्य का नेतृत्व करने का कभी सपना नहीं देखा था. मैं सोनिया गांधी और अन्य लोगों को धन्यवाद देना चाहता हूं. हम एक दूसरे पर विश्वास रखकर देश को एक नई दिशा दे रहे हैं.” विधायकों की मीटिंग के दौरान शिवसेना प्रमुख ने कहा, “मैं देवेंद्र फड़नवीस द्वारा उठाए गए सभी सवालों का जवाब देने के लिए तैयार हूं. मैं किसी चीज से नहीं डरता. झूठ हिंदुत्व का हिस्सा नहीं है. जरूरत पड़ने पर तुम हमें गले लगाओ और जब जरूरत न हो तुम हमें छोड़ दो. आपने हमें दूर रखने की कोशिश की.”


हालांकि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने पहले ही कहा था कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के अगले मुख्यमंत्री होंगे. उन्होंने दावा किया कि देवेंद्र फडणवीस सरकार के इस्तीफे से भाजपा का घमंड चूर-चूर हो गया.

वहीं विधानसभा में फ्लोर टेस्ट से पहले एक और बड़ी उथल पुथल सामने आई. जिन अजित पवार के दम पर बीजेपी ने रातों रात सरकार बनाकर सबको चौंका दिया था, उनके इस्तीफा देने बाद महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने भी अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया. देवेंद्र फडणवीस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसका ऐलान किया. विधानसभा में बुधवार को फ्लोर टेस्ट होना है. इस दौरान बीजेपी के सामने बहुमत साबित करने की बड़ी चुनौती थी.

(इनपुट ऐजेंसी)