नई दिल्ली: भारत ने एक दिन पहले यूएनजीए (संयुक्त राष्ट्र महासभा) में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के दिए गए भाषण का जवाब दिया है. इमरान खान ने कहा था कि कश्मीर और आतंकवाद को लेकर कई तरह के आरोप लगाए थे. उन्होंने एक तरह से परमाणु युद्ध की धमकी भी दी थी. इमरान ने भारत पर कई निजी हमले किए थे. इसका जवाब देते हुए भारत ने करारा जवाब दिया है. भारत ने यूएनजीएमें कहा कि इमरान खान का भाषण भड़काऊ था. उनका भाषण नफरत से भी भरा हुआ था.

राइट को रिप्लाई के तहत भारत की प्रथम सचिव विदिशा मैत्रा ने कहा कि इमरान खान ने परमाणु युद्ध की धमकी दी. ये राजनीतिक अस्थिरता है, न कि एक राष्ट्र की राजनीतिक कुशलता. विदिशा मैत्रा ने ये भी कहा कि दुनिया में पाकिस्तान ही ऐसा देश है जो संयुक्त राष्ट्र द्वारा आतंक की सूची में स्थान पाने वाले अलकायदा जैसे संगठन के लोगों को पेंशन देता है. भारत ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के दिए भाषण के जवाब में कहा कि भारतीयों को अपनी ओर से बोलने के लिए किसी और की जरूरत नहीं है, खासकर उन लोगों की बिल्कुल जरूरत नहीं है जिन्होंने नफरत की विचारधारा के आधार पर आतंक का उद्योग खड़ा किया है.

बता दें कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने यूएनजीए में दिए गए अपने भाषण में भारत पर कई हमले किये थे. कश्मीर का मुद्दा उठाते हुए उन्होंने कहा कि भारत से अगर युद्ध होता है तो एक छोटा देश होने के नाते पाकिस्तान के पास परमाणु हमले के अलावा कोई और रास्ता नहीं होगा। वहीं, पीएम मोदी ने इससे पहले दिए अपने भाषण में कहा था कि भारत ने युद्ध नहीं दुनिया को बुद्ध दिए हैं. उन्होंने दुनिया में विकास और शांति की बात की थी.