नई दिल्ली : केंद्र सरकार ने नौकरी ढूंढ रहे युवाओं के लिए बड़ी खुशखबरी दी है. केंद्रीय कैबिनेट की बुधवार को हुई बैठक में  नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी (National Recruitment Agency) के गठन के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है. इस मंजूरी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने ट्वीट कर बधाई दी है और कहा है कि नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी करोड़ों युवाओं के लिए वरदान साबित होगी. Also Read - Video: केंद्र के अध्यादेशों के विरोध में किसानों ने एनएच-44 को ब्‍लॉक किया, पथराव पर पुलिस का लाठीचार्ज

पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा कि कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट के जरिए, कई टेस्ट की जरूरत खत्म हो जाएगी और समय के साथ साथ संसाधनों की भी बचत होगी. इससे पारदर्शिता को भी बढ़ावा मिलेगा. Also Read - मध्य प्रदेश में NRA के अंकों के आधार पर मिलेगी नौकरी, सीएम शिवराज बोले- युवा रहें तैयार

सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बुधवार को हुई कैबिनेट के बाद बताया कि कैबिनेट ने नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी को मंजूरी दे दी है जिससे इसके तहत कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट होने से नौकरी तलाश रहे युवाओं को फायदा होगा. Also Read - National Recruitment Agency: NRA CET कैसे करेगा काम, यहां इन 10 प्वाइंट्स के जरिए आसानी से समझें  

वहीं केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि कॉमन एंट्रेस टेस्ट की मेरिट लिस्ट 3 साल के लिए वैलिड रहेगी. इस दौरान कैंडिडेट अपनी योग्यता और प्राथमिकता के हिसाब से अलग-अलग सेक्टर में नौकरियों के लिए आवेदन कर सकेंगे. यह एक ऐतिहासिक रिफॉर्म है. इससे भर्तियां, सेलेक्शन और जॉब प्लेसमेंट आसान होगा.

इस प्रस्ताव को मंजूरी मिलने के बाद अब साल में दो बार टेस्ट होगा और एक हजार टेस्ट सेंटर बनाए जाएंगे. ये टेस्ट सेंटर  जिला हेडक्वार्टर में बनाए जाएंगे. लेकिन अब उम्र में छूट नहीं मिलेगी. वैसे फीस कंसेशन पहले जैसे ही रहेंगे. इसके तहत परीक्षाएं 12 भाषाओं में होगी. बता दें कि नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी का हेडक्वार्टर दिल्ली होगा. इसके बाद एक तो परीक्षा से छात्रों का पैसा भी बचेगा उनको बहुत दौड़ धूप नहीं करनी होगी.

बता दें कि नौकरी के लिए युवाओं को बहुत सारी परीक्षाएं देनी पड़ती हैं. पूरे देश में 20 भर्ती एजेंसियां हैं, इनमें से सिर्फ 3 एजेंसियों के एग्जाम कॉमन करवाए जा रहे हैं, ऐसे में हर एजेंसी के लिए परीक्षा देने के लिए युवाओं को कई जगह जाना पड़ता है.