नई दिल्ली: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को लोगों से कहा है कि वह चीन, इटली, ईरान, रिपब्लिक आफ कोरिया, जापान, फ्रांस, स्पेन और जर्मनी की यात्रा करने से बचें. मंत्रालय ने लोगों से यह भी कहा है कि कोरोना वायरस के प्रसार को देखते हुए वे इन देशों में वह अनावश्यक यात्रा करने से बचें. इसके अतिरिक्त, एक अन्य परामर्श में कहा गया है कि इटली और दक्षिण कोरिया से आने वाले यात्रियों के लिए कोविड-19 निगेटिव प्रमाण पत्र अनिवार्य कर दिया गया है. यह कदम अस्थायी तौर उठाया गया है और दस मार्च की आधी रात से यह प्रभावी होगा. Also Read - एशिया कप के रद्द होने की खबर से इंकार नहीं किया जा सकता: बीसीसीआई अधिकारी

वहीं आपको बता दें कि केरल में कोरोना वायरस के छह नए मामलों की मंगलवार को पुष्टि होने के साथ राज्य में इस वायरस से संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़ कर 12 हो गई है. इस बीच, राज्य सरकार ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने की कोशिश के तहत शैक्षणिक संस्थानों और सिनेमाघरों को बंद करने सहित कई पाबंदियां लगाने का फैसला किया है. Also Read - Covid 19: पाक में हिंदुओं को सरकारी राशन तक नहीं दिया जा रहा, भूखे रहने की नौबत

मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने मंगलवार को मंत्रिमंडल की एक विशेष बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा कि कम से कम 1,116 लोग– विभिन्न अस्पतालों के 149 पृथक वार्डों में निगरानी में हैं, जबकि 967 को घर में पृथक रखा गया है. स्वास्थ्य मंत्री के के शैलजा ने कहा कि नये मामले इटली से लौटे दंपति, उनके बेटे और दोस्त तथा रिश्तेदारों के हैं. उन्होंने कहा कि जिन छह नये मामलों की पुष्टि हुई है उनमें दंपति के वृद्ध माता-पिता भी शामिल हैं. विजयन ने कहा कि स्कूल, कॉलेज और सिनेमा घर 31 मार्च तक राज्य में बंद रखे गये हैं. Also Read - मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण से एक और मौत, प्रदेश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 47 हुई