नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को छतरपुर क्षेत्र में स्थित राधा स्वामी ब्यास में COVID केयर सेंटर पहुंचकर जायजा लिया. गृह मंत्री अमित शाह पिछले काफी समय से दिल्ली में कोरोना की स्थिति को लेकर सजग हैं और लगातार बैठकें व दौरा कर रहे हैं. अमित शाह सिर्फ बैठक ही नहीं किए बल्कि फील्ड में भी उतरे. अस्पताल का दौरा कर उन्होंने व्यवस्थाएं भी जांची. Also Read - संदेसरा बैंक धोखाधड़ी मामले में अहमद पटेल से ईडी की10 घंटे तक चली पूछताछ, कांग्रेस नेता बोले- ये राजनीतिक साजिश

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि शाह ने अपनी यात्रा के दौरान केन्द्र में चल रही तैयारियों की जायजा लिया. छतरपुर इलाके में राधा स्वामी सत्संग व्यास के परिसर में बनाए गए इस केन्द्र में दो हिस्से होंगे. एक हिस्से में ऐसे रोगियों का इलाज किया जाएगा जिनमें लक्षण नहीं दिखाई दिये हैं जबकि दूसरे हिस्से में कोविड स्वास्थ्य देखभाल केन्द्र होगा. Also Read - Delhi Coronavirus News 2 July 2020: दिल्ली में प्लाज्मा बैंक शुरू, जानिए कौन लोग दान कर सकते हैं प्लाज्मा

बता दें कि भारत-तिब्बत सीमा पुलिस ने दिल्ली में इस 10,000 से अधिक बिस्तरों की क्षमता वाले कोविड-19 केंद्र की देखरेख का जिम्मा बुधवार को संभाल लिया है. भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) को केन्द्र के प्रबंधन की जिम्मेदारी सौंपी गई है और वह एक नोडल एजेंसी के तौर पर कार्य करेगी. Also Read - गृहमंत्री अमित शाह ने बुलाई बैठक, योगी आदित्यनाथ, अरविंद केजरीवाल और मनोहर लाल खट्टर होंगे शामिल

आईटीबीपी के अधिकारियों के एक दल ने राधा स्वामी ब्यास केंद्र का दौरा किया और दिल्ली सरकार तथा अन्य पक्षकारों के साथ चर्चा की जो इस केंद्र को चलाने में साझेदार होंगे. गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को कहा था कि इस केंद्र का जिम्मा आईटीबीपी को सौंपा गया है. यहां बिस्तरों की कुल क्षमता 10,200 तक हो सकती है. यह देश के साथ ही राष्ट्रीय राजधानी में सबसे बड़ा कोविड-19 देखभाल केंद्र होगा.

दिल्ली में अब तक लगभग 80 हजार लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जा चुके हैं. इनमें से करीब 2,500 लोगों की मौत हो चुकी है.