Ramvilas Paswan: लोजपा के दिग्गज नेता रामविलास पासवान का गुरुवार की शाम को दिल्ली के फोर्टिस अस्पताल में निधन हो गया. दिवंगत नेता का पार्थिव शरीर अस्पताल से आज सुबह 10 बजे उनके दिल्ली के सरकारी आवास 12 जनपथ लाया गया है, जहां उनके आखिरी दर्शन के लिए लोग पहुंच रहे हैं. देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी दिवंगत नेता के अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे और उन्हें अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि दी. Also Read - भाजपा के 'चाणक्य' गृहमंत्री अमित शाह को पीएम मोदी ने दी जन्मदिन की बधाई, कही ये बात

पीएम मोदी ने रामविलास पासवान के पुत्र चिराग पासवान के साथ ही परिवार के अन्य सदस्यों से बात की और इस मुश्किल घड़ी में उनका ढाढस बंधाया और धैर्य बनाए रखने की बात कही. Also Read - नवरात्रि 2020 पर बंगाल के लोगों से आज जुड़ेंगे PM मोदी, 'पुजोर शुभेच्छा' के जरिए जनता को देंगे खास संदेश

पीएम मोदी के साथ ही भाजपा के कई नेता रामविलास पासवान के अंतिम दर्शन के लिए उनके आवास पहुंचे और अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की. रामविलास पासवान के निधन का समाचार मिलते ही पीएम मोदी ने ट्वीट कर अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की थी और कहा था कि उन्होंने एक अच्छा साथी खो दिया है. Also Read - पिता का श्राद्धकर्म निपटाते ही चिराग ने भरी चुनावी हुंकार, मां ने टीका लगा बेटे को दिया आशीर्वाद

 

रामविलास पासवान का पार्थिव शरीर कुछ देर यहां रखा जाएगा जहां लोग अपने प्रिय नेता को श्रद्धांजलि देंगे और फिर यहां से दो बजे के बाद उनका पार्थिव शरीर पटना ले जाया जाएगा और लोक जनशक्ति पार्टी कार्यालय में  रखा जाएगा, जहां पार्टी के कार्यकर्ता, नेता और उनके प्रशंसक उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित कर सकेंगे. फिर कल यानि शनिवार को  उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा.

बता दें कि देश के प्रमुख दलित नेताओं में से एक केंद्रीय केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान का गुरुवार की शाम दिल्ली के फोर्टिस अस्पताल में निधन हो गया. वे 74 वर्ष के थे. वे लंबे समय से हृदय से जुड़ी बीमारियों से परेशान थे और दिल्ली के एस्कॉर्ट अस्पताल में इलाजरत थे.उनके निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और पीएम नरेंद्र मोदी समेत देश के तमाम नेताओं ने शोक व्यक्त किया है.

केंद्र सरकार ने उनके सम्मान में आज पूरे देश में राजकीय शोक की घोषणा की है. इस दौरान देश की सभी सरकारी इमारतों पर तिरंगा झंडा आधा झुका रहेगा.