नई दिल्ली: सरकार ने सभी कंपनियों को परीक्षण के लिए 5जी स्पेक्ट्रम देने का फैसला किया है. इनमें वे आपरेटर भी शामिल होंगे जो चीन की चर्चित नेटवर्क उपकरण कंपनी हुवावेई के साथ मिलकर काम करना चाहते हैं. दूरसंचार मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने सोमवार को कहा, ‘‘हमने सभी कंपनियों को परीक्षण के लिए 5जी स्पेक्ट्रम देने का फैसला किया है.’’

प्रसाद ने यहां एक कार्यक्रम में कहा कि इस बारे में सैद्धान्तिक तौर पर फैसला ले लिया गया है. उन्होंने कहा, ‘‘5जी भविष्य है, यह रफ्तार है. हम 5जी में नए नवोन्मेषण को प्रोत्साहन देंगे.’’

सूत्रों ने बताया कि हुवावेई सहित सभी आपरेटर और वेंडर इस परीक्षण में शामिल किए जाएंगे.

(इनपुट भाषा)