नई दिल्ली: नव नियुक्त महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने शुक्रवार को कहा कि वह महिलाओं के सशक्तिकरण और बच्चों के कल्याण को सुनिश्चित करने के लिए ‘सभी उचित कदम उठाने को प्रतिबद्ध’ हैं. उन्होंने अपनी सहयोगी और महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री देबाश्री चौधरी को भी अपनी शुभकामनाएं भेजी. चौधरी पश्चिम बंगाल के रायगंज से सांसद हैं. Also Read - कोरोना संक्रमण से ठीक हुईं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, खुद ट्वीट कर दी यह जानकारी...

Also Read - 20 रुपए में रोज 70,000 लोगों को भोजन करा रही है जनकिया होटल, जानिए इसकी खासियत

सूत्रों ने बताया कि महिला एवं बाल विकास मंत्रालय में स्मृति के स्वागत की तैयारियां शुरू हो चुकी है. सोमवार से उनके पदभार संभालने की संभावना है. बच्चों में कुपोषण और उनकी शारीरिक वृद्धि बाधित होने से लेकर कार्यस्थल पर महिलाओं के यौन उत्पीड़न को रोकने के नये लिए नियम बनाने जैसी कई चुनौतियां हैं, जिनसे महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी को निपटना पड़ेगा. Also Read - UP: अमेठी में ग्राम प्रधान के पति को जिंदा जलाया, एक्शन में आईं स्मृति ईरानी

पहले दिन मोदी सरकार के 3 बड़े फैसले: शहीदों के बच्चों, किसानों और छोटे व्यापारियों को दिया तोहफा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कैबिनेट की सबसे युवा चेहरा ईरानी (43) को शुक्रवार को महिला एवं बाल विकास मंत्री बनाया गया. साथ ही, मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में उनके पास रहे वस्त्र मंत्रालय का प्रभार भी बरकरार रखा गया है. उन्होंने हाल ही में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की अमेठी सीट पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को शिकस्त दी.