उन्नाव: उन्नाव जिले में ट्रांस गंगा सिटी के लिये ली गयी जमीन के मुआवजे को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों ने खुद पर लाठीचार्ज से नाराज होकर रविवार को उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीसीडा) के गोदाम में आग लगा दी. इससे लाखों रुपए मूल्य के प्लास्टिक पाइप जलकर नष्ट हो गये. सपा और कांग्रेस ने इस मामले पर सरकार को घेरते हुए कहा कि वह किसानों का दमन करने पर तुली है. उन्‍नाव के अपर जिलाधिकारी राकेश सिंह ने बताया कि मुआवजे को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों के बीच मौजूद कुछ अराजक तत्वों ने ट्रांस गंगा सिटी का निर्माण करा रहे यूपीसीडा के गोदाम और मिक्सर वाहन में आग लगा दी. गोदाम में रखे प्लॉस्टिक पाइप के जलने के कारण आग ने विकराल रूप ले लिया और काफी ऊंचाई तक धुएं का गुबार उठने से गांव में दहशत फैल गई.

उन्होंने बताया कि दमकल कर्मियों ने करीब आधे घंटे की मशक्कत से आग पर काबू पा लिया. आगजनी से कोई हताहत नहीं हुआ है. घटना को अंजाम देने वालों की तलाश की जा रही है. गौरतलब है कि शनिवार को उन्नाव के गंगा बैराज रोड स्थित ट्रांसगंगा सिटी में काम कराने पहुंची प्रशासन और यूपीसीडा की टीम पर किसानों ने हमला कर दिया था. पुलिस ने भीड़ पर लाठीचार्ज किया तो उग्र ग्रामीणों ने पथराव कर दिया था, जिसमें अपर पुलिस अधीक्षक विनोद पांडेय और पुलिस क्षेत्राधिकारी अंजनी कुमार समेत छह से ज्यादा पुलिसकर्मी घायल हो गए थे. जवाब में पुलिस के लाठीचार्ज में 12 से ज्यादा ग्रामीण घायल हुए थे.

इस बीच, समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस मामले पर कहा कि भाजपा सरकार के दमन के कारण किसानों में असंतोष व्याप्त है. ट्रांस गंगा प्रोजेक्ट के लिए भाजपा सरकार हठधर्मी रवैया अपनाए हुए है और किसानों की दिक्कतों के समाधान की जगह उन पर लाठियां भांज रही है.

उन्‍होंने कहा कि प्रदेश की पूर्ववर्ती समाजवादी सरकार जहां किसानों की सहमति से जमीन का अधिग्रहण करने में सफल रही थी, वहीं भाजपा सरकार उन्‍हें बिना पर्याप्त मुआवजा दिए बेघर और बेरोजगार बनाने पर तुली है.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी किसानों पर हुए लाठीचार्ज की निंदा करते हुए एक ट्वीट में घटना का एक कथित वीडियो भी शेयर किया. उन्‍होंने कहा ‘उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री अभी गोरखपुर में किसानों पर बड़ी-बड़ी बातें कर रहे हैं, उनकी पुलिस का हाल देखिये. उन्‍नाव में एक किसान लाठियां खाकर अधमरा पड़ा है. उसको और मारा जा रहा है.’ उन्‍होंने कहा ‘शर्म से आंखें झुक जानी चाहिये. जो आपके लिये अन्‍न उगाते हैं, उनके साथ ऐसी निर्दयता?’

प्रदेश कांग्रेस अध्‍यक्ष अजय कुमार लल्‍लू ने किसानों पर हुई लाठीचार्ज की निंदा करते हुए कहा कि पुलिस ने बुजुर्ग किसानों तक को नहीं बख्‍शा. सबसे ज्‍यादा दुर्भाग्यपूर्ण तो यह है कि अभी तक सरकार ने किसानों को कोई भी आश्वासन नहीं दिया है जिसके चलते पूरे क्षेत्र में किसान आन्दोलनरत हैं और प्रशासन एवं पुलिस के भय से अपना घर-बार छोड़कर अन्यत्र पलायन कर रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस सदन से लेकर खेतों तक हर कदम पर किसानों के साथ है और वह उनकी लड़ाई लड़ेगी.

(इनपुट भाषा)