नई दिल्ली: विभिन्न वर्गो के व्यापक आक्रोश और विपक्षी दलों की तीखी आलोचना के बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने उन्नाव बलात्कार मामले में आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को पार्टी से निकाल दिया है. सूत्रों ने बृहस्पतिवार को इस आशय की जानकारी दी.

 

उन्नाव बलात्कार मामले में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर मुख्य आरोपी हैं जिन्हें पिछले साल 12 अप्रैल को गिरफ्तार किया गया था. बलात्कार पीड़िता के साथ गत रविवार हुए सड़क हादसे के बाद विपक्षी दलों समेत विभिन्न वर्गो की आलोचना के मद्देनजर विधायक सेंगर को पार्टी ने बाहर का रास्ता दिखाया है. गौरतलब है कि रायबरेली में एक तेज रफ्तार ट्रक ने रविवार को बलात्कार पीड़िता की कार को टक्कर मार दी थी. हादसे में पीड़िता के परिवार के दो सदस्यों की मौत हो गई. पीड़िता और उसका वकील गंभीर रूप से घायल हैं, जिनका लखनऊ के एक अस्पताल में इलाज जारी है.

उन्नाव दुष्कर्म मामलाः सुप्रीम कोर्ट ने CBI से मांगी जानकारी, केस की सुनवाई बाहर कराने पर विचार

सीबीआई ने सेंगर सहित 10 लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया
पीड़िता के परिजन ने इस घटना को परिवार को खत्म करने की एक सोची-समझी साजिश का हिस्सा बताया है. इस घटना के मद्देनजर उत्तरप्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार को भी तीखी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है. मंगलवार को केंद्र सरकार ने उत्तर प्रदेश सरकार की सिफारिश पर इस मामले को सीबीआई को सौंप दिया था. इस संबंध में सीबीआई ने सेंगर सहित 10 लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है. (इनपुट एजेंसी)