गुरुग्राम: उत्तर प्रदेश बार काउंसिल की अध्यक्ष दरवेश सिंह यादव की आगरा न्यायालय में हत्या करने के बाद खुद को गोली मार लेने वाले वकील की शनिवार को गुरुग्राम के एक अस्पताल में मौत हो गई. बार काउंसिल की अध्यक्ष की हत्या के आरोपी मनीष शर्मा को मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वह कोमा में थे और उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था. शनिवार अपराह्न् उन्हें मृत घोषित कर दिया गया. मनीष ने दरवेश की हत्या के बाद खुद को भी गोली मार ली थी.

शर्मा ने अपने सहकर्मी दरवेश सिंह यादव को 12 जून को गोली मार दी थी. उसके दो दिन पहले ही वह बार काउंसिल की अध्यक्ष निर्वाचित हुई थीं. शर्मा ने यादव पर तीन गोलियां दागी थीं और घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई थी. उसके तत्काल बाद शर्मा ने खुद के सिर में गोली दाग ली थी.

यूपी बार काउंसिल अध्‍यक्ष दरवेश सिंह यादव के मर्डर के पीछे ये वजह सामने आई

बता दें कि दरवेश की हत्या के बाद उत्तर प्रदेश की क़ानून व्यवस्था पर सवाल खड़े हो गए थे. दरवेश हत्या से दो दिन पहले ही बार काउंसिल की अध्यक्ष चुनी गई थीं. हत्या के बाद इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग हो रही है. इसी बीच हत्या के आरोपी की अस्पताल में मौत हो गई है.