लखनऊ: यूपी बोर्ड की कक्षा 10 और 12वीं के परीक्षा परिणाम अप्रैल के तीसरे सप्ताह में घोषित किए जाएंगे. यूपी बोर्ड पिछले साल के मुकाबले करीब एक महीने पहले परिणाम घोषित करेगा. बता दें कि बोर्ड परीक्षा की मूल्यांकन प्रक्रिया 17 मार्च से शुरू होगी. परीक्षा में 1.46 लाख से अधिक परीक्षार्थी शामिल हुए हैं.Also Read - Nokia XR20 Rugged Phone भारत में हुआ लॉन्च, घंटे भर पानी में रखने से भी नहीं होगा खराब, जानिए कीमत और स्पेसिफिकेशन्स

Also Read - Bandula Warnapura Death: श्रीलंका के पहले टेस्ट कप्तान Bandula Warnapura का निधन, शोक में डूबा क्रिकेट जगत

यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव के मुताबिक, इस साल बोर्ड परीक्षा छह फरवरी से शुरू हुई थी. ऐसे में नतीजे भी पहले घोषित किए जाएंगे. हमने 10वीं और 12वीं दोनों के ही नतीजे 40 से 45 दिनों में प्रकाशित करने की योजना बनाई है. परीक्षा के मूल्यांकन के बाद, हम अपने क्षेत्रीय कार्यालयों पर डबल-चेकिंग की प्रतियां भेज देंगे. इस साल, कुल 11,28,250 छात्रों ने बोर्ड की परीक्षा नहीं दी. ऐसे में यह अनुमान लगाया जा रहा है कि परीक्षा के दौरान बरती गई सख्ती और नकल माफियों पर लगाम लगाने के चलते ऐसा हुआ है. Also Read - Karnataka School Reopening Date: कर्नाटक में 25 अक्टूबर से खुलेंगे कक्षा 1 से 5वीं तक के स्कूल, इन नियमों का करना होगा पालन

यूपी बोर्ड CCTV की निगरानी में करेगा कॉपियों का मूल्यांकन, 20 टॉपर्स की कॉपियां भी होंगी सावर्जनिक

बता दें कि बोर्ड परीक्षाओं में इस बार सीसीटीवी से निगरानी की गई, साथ ही मूल्यांकन कार्य पर भी सीसीटीवी से निगरानी की जा रही है. कक्षा 10 के छात्रों की परीक्षा 22 फरवरी को समाप्त हुई थी, जबकि 12 वीं इंटरमीडिएट परीक्षा 12 मार्च को समाप्त हुई. कक्षा 10 विज्ञान और कक्षा 12 भौतिकी के लिए पुन: परीक्षा, बोर्ड द्वारा जल्द ही आयोजित की जाएगी.