लखनऊ: परीक्षाओं का वक्त कहीं शुरू हो गया है कहीं शुरू होने वाला है. उत्तरप्रदेश बोर्ड परीक्षा से पहले, यूपी पुलिस ने शुक्रवार को नॉइज़ पोलुएशन यानी ध्वनि प्रदूषण पर कार्रवाई करने के लिए एक अभियान शुरू किया है, ताकि छात्र पढ़ाई के दौरान परेशान न हो सकें. पुलिस ने छात्रों के लिए एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया है, जिस पर वे अगर परीक्षा की तैयारी के दौरान लाउड म्यूजिक जैसे किसी भी अवांछित शोर से परेशान होते हैं तो उसके खिलाफ शिकायत दर्ज करा सकते हैं. Also Read - यूपी में लॉकडाउन, सोशल डिस्टेंसिंग लागू करने पहुंची पुलिस को भीड़ ने किया लहूलुहान 

किसी भी प्रकार के शोर से अगर छात्र परेशानी महसूस करते हैं तो वे हेल्पलाइन नंबर 112 पर डायल कर पुलिस से शिकायत कर सकते हैं. ये हेल्पलाइन नंबर 15 फरवरी से 31 मार्च तक मान्य रहेगा. पुलिस ने इस अभियान के बारे में कहा कि ये पहली ऐसी सेवा है जिसका उद्देश्य बच्चों को पढ़ाई के लिए बेहतर माहौल उपलब्ध कराना है. हेल्पलाइन नंबर के अलावा, छात्र ट्विटर हैंडल या कॉल 112 के अन्य सोशल मीडिया हैंडल पर भी अपनी शिकायतें दर्ज कर सकते हैं. शैक्षणिक संस्थानों के आसपास के कम से कम 100 मीटर क्षेत्र को ‘शांत’ क्षेत्र घोषित किया गया है. Also Read - VIDEO: 83 साल के बुजुर्ग ने यूपी पुलिस से मांगी मदद, पुलिस अफसरों ने पहुंचकर खिलाई मिठाई

पहल के बारे में बात करते हुए अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक असीम अरुण ने बताया, “यदि आप (छात्र) पढ़ाई के दौरान शोर से परेशान हैं तो पुलिस मदद करेगी. निर्धारित सीमा से अधिक शोर होने पर पुलिस कार्रवाई करेगी. नियमों का लगातार उल्लंघन करने पर कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी. ”

हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के छात्रों सहित 56 लाख छात्र इस साल राज्य बोर्ड परीक्षा देंगे. यूपी बोर्ड परीक्षा 2020, 18 फरवरी से शुरू होगी और 6 मार्च, 2020 को समाप्त होगी.