गाजियाबाद के बेहरामपुर इलाके में एक 12 वर्षीय बच्चे का शव मिला है. यह शव मंगलवार की शाम में न्यू लिंक रोड रेल ब्रिज के नीचे पाया गया. पुलिस का कहना है कि मां की डांट से नाराज होकर बच्चा सोमवार को घर से फरार हो गया था. आशंका है कि बाद में उसने पुल से कूदकर जान दे दी.

बच्चे की पहचान बेहरामपुर के शिवम के रूप में हुई है. वह पास के ही एक निजी स्कूल में पढ़ता था. उसने इंदिरापुरम के एक निजी स्कूल का यूनीफॉर्म पहन रखा था. पुलिस ने बताया कि बच्चे की मां इंदिरापुरम इलाके में घरों में काम करती है. काम के दौरान ही किसी घर के मालिक ने उसे ये यूनीफार्म दिए थे. शिवम जिस यूनीफॉर्म को पहना था उस यूनीफॉर्म वाले स्कूल में कभी नहीं पढ़ा है.

कोतवाली पुलिस स्टेशन के एसएचओ जयकरण सिंह ने कहा कि शिवम के चेहरे पर चोट के निशान थे. उसके परिवार वालों ने बताया कि मां के डांटने के बाद सोमवार को वह घर से फरार हो गया था. उसने अपनी मां से कहा था कि वह कभी घर नहीं लौटेगा. पुलिस ने बताया कि शव का पोस्टमार्टम हो गया है. घटना की कड़ी जोड़ने के बाद लगता है कि बच्चे ने ओवर ब्रिज से कूदकर जान दे दी. मामले की आगे की जांच चल रही है. शिवम के पिता पप्पू ने कहा कि उनके दोनों बेटों को सोमवार को उसकी मां ने डांट लगाई थी.

पप्पू ने कहा कि उनके तीन बच्चों में शिवम दूसरे नंबर का था. उसकी मां उसके बड़े भाई को डांट रही थी. इससे शिवम भयभीत होकर घर से भाग गया. जब देर शाम तक घर नहीं लौटा तो हम उसे ढूंढने लगे. इसके बाद हम विजय नगर पुलिस थाना पहुंचे और वहां लापता होने की रिपोर्ट दर्ज करवाई. मंगलवार को पुलिस ने उन्हें बताया कि एक बच्चे का शव बरामद हुआ है. वह शव शिवम का था. पप्पू ने बताया कि उसकी मां जहां काम करती है उन्होंने कपड़े दिए थे. वही कपड़े शिवम ने पहन रखे थे.