नई दिल्ली. पुलवामा में सीआरपीएफ काफिल हुए आतंकी हमले के बाद पूरे देश में गुस्सा और शोक है. भारत ने भी फैसला लिया है कि वह कुटनीतिक स्तर से पाकिस्तान को पूरी दुनिया में अलग-थलग करेगा. इस बीच अमेरिका ने भारत को समर्थन दिया है. अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने कहा है कि आतंकवाद के खिलाफ भारत की लड़ाई में अमेरिका पूरी तरह से साथ खड़ा है.

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक बॉल्टन ने भारतीय एनएसए अजीत डोभाल से बात करते हुए कहा है कि सीमा पार से हो रही आतंकवादी गतिविधियों के खिलाफ लड़ाई में आत्मरक्षा करना भारत का अधिकार है. उन्होंने कहा कि वह हर तरह से इस लड़ाई में भारत के साथ हैं.

उन्होंने कहा, अजित डोभाल से 2 बार बात करते हुए कहा है कि अमेरिका का रुख इस बात पर स्पष्ट है कि पाकिस्तान को आतंकियों के लिए सुरक्षित पनाहगाह नहीं बनना चाहिए. बेहद स्पष्ट है कि हम पाकिस्तान के साथ बातचीत को जारी रखे हुए हैं.

40 जवान हुए हैं शहीद
बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों की बस को टक्कर मार दी, जिसमें 40 जवान शहीद हो गए जबकि कई गंभीर रूप से घायल हुए हैं.