नई दिल्ली: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने दो दिवसीय सफल भारत दौरे के बाद मंगलवार रात अपने देश अमेरिका प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप के साथ रवाना हो गए. वे नई दिल्ली स्थित पालम एयरपोर्ट से अपने विमान में सवार हुए. बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप सोमवार को भारत पहुंचे थे. जहां गुजरात में उनका भव्य स्वागत किया गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनकी आगवानी की थी. इसके बाद मोटेरा स्टेडियम में दोनों नेताओं ने वहां मौजूद लाखों लोगों को संबोधित किया. अहमदाबाद से ट्रंप प्यार की निशानी ताज का दीदार करने के लिए आगरा गए जहां उनका भव्य स्वागत हुआ. वे सोमवार को ही वापस दिल्ली लौट आए थे. Also Read - Donald Trump talks of retaliation on Hydroxychloroquine: डोनाल्ड ट्रंप की धमकी- कोरोना की दवा नहीं देगा भारत तो अमेरिका करेगा जवाबी कार्रवाई

मंगलवार को भारत के खास मेहमान होने के कारण अमेरिकी राष्ट्रपति की जबरदस्त मेहमान नवाजी की गई. राष्ट्रपति ट्रंप का सबसे पहले राष्ट्रपति भवन में औपचारिक स्वागत किया गया. इस मौके पर सेना के तीनों अंगों की मिली जुली टुकड़ी ने ट्रंप को ‘गार्ड ऑफ ऑनर’ दिया गया. इसके साथ ही उन्हें 21 तोपों की सलामी भी दी गई. इस मौके पर भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति का स्वागत किया. शाम को राष्ट्रपति भवन में ट्रंप के सम्मान में आयोजित भोज में कई प्रकार के व्यंजन परोसे गए. Also Read - भारत सरकार ने इतनी फार्मा सामाग्रियों और दवाओं के निर्यात प्रतिबंधों में बरती ढील

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मंगलवार को उनके सम्मान में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा दिये गये राजकीय रात्रिभोज में भाग लिया जो उनकी दो दिनी भारत यात्रा का अंतिम समारोह रहा. अपनी पत्नी और अमेरिका की प्रथम महिला नागरिक मेलानिया ट्रंप के साथ पहुंचे ट्रंप का राष्ट्रपति भवन के भव्य प्रांगण में राष्ट्रपति कोविंद और उनकी पत्नी सविता ने स्वागत किया. कोविंद अमेरिकी राष्ट्रपति को दरबार हॉल तक लेकर गये जहां मेहमान राष्ट्रपति ने गौतम बुद्ध की पांचवीं सदी की प्रतिमा और अन्य अनेक भारतीय नेताओं की तस्वीरें देखीं. Also Read - CoronaVirus: नॉन-हॉटस्‍पॉट इलाकों में चरणबद्ध तरीके से लॉकडाउन खोलने की तैयारी की जाए: PM मोदी

बाद में दोनों राष्ट्रपतियों ने रस्मी बातचीत की जिस दौरान कोविंद ने कहा कि भारत-अमेरिका संबंधों के महत्व का आकलन इस बात से ही किया जा सकता है कि अमेरिकी राष्ट्रपति का स्वागत करने के लिए बड़ी संख्या में लोग उमड़े. अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि पिछले दो दिन बहुत लाभप्रद रहे. उन्होंने कहा कि दोनों देश व्यापार और सैन्य समझौतों पर काम कर रहे हैं. ट्रंप ने कहा कि भारत आना सीखने का अद्भुत अनुभव देने वाला रहा है. उन्होंने स्वागत-सत्कार के लिए राष्ट्रपति कोविंद का शुक्रिया अदा किया.