वॉशिंगटन/ शिकागो: एक ओर अमेरिका येरूशलम में अपना नया दूतावास जल्‍द ही खोलना जा रहा है, वहीं दूसरी ओर इजरायल- फिलिस्‍तीन के बीच शांति स्‍थापित कराने के लिए एक योजना भी तैयार कर ली है. अमेरिका की एम्‍बेसी पहले से तेलअवीव में स्थित है. बता दें कि अमेरिका पहले ही येरुशलम को इजरायल की राजधानी घोषित कर चुका है, जिसका दुनियाभर में विरोध हुआ. संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत ने कहा है कि इस्राइल और फलस्तीन के बीच बहुप्रतीक्षित शांति योजना का प्रस्ताव लगभग तैयार है. हालांकि, फिलिस्‍तीन पहले ही कह चुका है कि वह अमेरिका की मध्‍यस्‍थता नहीं चाहता है. Also Read - भारत ने US से लीज पर लिए बेहद खतरनाक Predator Drones, चीन से निपटने को LAC पर हो सकती है तैनाती

येरूशलम को राजधानी घोषित करने के कदम को पश्‍चिम एशिया में अमेरिका की पॉलिसी में बड़े बदलाव के रूप में देखा गया. इस बीच, अमेरिका ने इजरायल में स्थायी दूतावास के लिए जगह तलाश करनी शुरू कर दी है. Also Read - Diwali Festival: US प्रेसिडेंट डोनाल्‍ड ट्रंप, जो बाइडेन और कमला हैरिस ने दी शुभकामनाएं

बातचीत शुरू करने के लिए प्रारूप तैयार
यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो के इंस्टि्टयूट ऑफ पॉलिटिक्स में पहुंची अमेरिका की राजदूत निक्की हेली ने पश्चिम एशिया शांति प्रस्ताव के बारे में कहा, ‘मेरे ख्याल से वे इसे पूरा कर रहे हैं’. निक्‍की ने कहा, ‘एक पक्ष योजना को पसंद नहीं करेगा और दूसरा पक्ष उससे घृणा नहीं करेगा, लेकिन यह बातचीत शुरू करने का एक खाका है’. Also Read - अमेरिका ने अगर ताइवान को हथियार बेचे तो ‘उचित और जरूरी’ जवाब देंगे: चीन

ट्रम्‍प ने शांति प्रस्‍ताव पर सुरक्षा परिषद से मांगा समर्थन
पश्चिम एशिया में तनाव कम करने और शांति लाने को लेकर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्‍प के दो शीर्ष राजनयिक, दामाद जारेड कुशनेर और सलाहकार जासन ग्रीनब्लट ने दो दिन पहले संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के राजदूतों से मुलाकात की थी और आगामी शांति प्रस्ताव पर उनका समर्थन मांगा था.

अब्बास ने अमेरिका की भूमिका को नकारा
फलस्तीनी नेता महबूब अब्बास ने बुधवार को कहा था कि व्यापक शांति प्रक्रिया शुरू करने के लिए 2018 के मध्य तक एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन बुलाया जाए, जिसमें अमेरिका की मध्यस्थता में मुख्य भूमिका नहीं हो.

नया भवन 2019 के अंत तक
न्‍यूज एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, अमेरिकी विदेश विभाग की प्रवक्‍ता हीदर नॉर्ट ने शुक्रवार को कहा कि शुरू में दूतावास आर्नोना की एक इमारत में खोला जाएगा, जहां से अभी अमेरिका के महावाणिज्य दूतवास में वाणिज्य दूत संबंधी कार्य संचालित किए जाते हैं. नॉर्ट ने कहा कि आर्नोना परिसर में नया दूतावास उपभवन 2019 के अंत तक खुलेगा.

इजरायल की 70वीं वर्षगांठ पर शुरू होगा दूतावास
प्रवक्ता ने कहा कि दूतावास संयोग से मई में खुल रहा है, जिस समय इजरायल की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ भी है.   (इनपुट एजेंसी)