नई दिल्ली: अमेरिका और चीन के बीच तनाव बढ़ने से भारत का खाड़ी देश (ईरान) को निर्यात प्रभावित होगा. निर्यातकों के शीर्ष संगठन फेडरेशन ऑफ इंडियन एक्सपोर्ट ऑर्गेनाइजेशन (फियो) के अध्यक्ष शरद कुमार सराफ ने कहा, “ईरान भारत का प्रमुख व्यापारिक भागीदार है. अब तक निर्यातकों ने ईरान को निर्यात से जुड़ी किसी भी तरह की चिंता के बारे में नहीं बताया है.” Also Read - कोविड-19 से लड़ने में मदद उपलब्ध कराने के लिए भारत के संपर्क में हैं : चीन

हालांकि, यदि तनाव बढ़ता है तो यह ईरान को होने वाले भारतीय निर्यात पर असर डाल सकता है. उन्होंने कहा कि ईरान पर मौजूदा व्यापार प्रतिबंधों के चलते ईरान की शिपिंग कंपनियां भारतीय खेप को केवल अपने देश ले जा रही हैं. Also Read - Corona Spike in India: COVID19 ने अब तक के सारे रिकॉर्ड तोड़े, 3,32,730 नए केस आए, 24 घंटे में 2263 मौतें

गौरतलब है कि अमेरिकी ड्रोन हमले में कुद्स फोर्स के कमांडर कासिम सुलेमानी की मौत हो गई थी. अमेरिका ने इस घटना को बगदाद में अंजाम दिया था. हालांकि इस हमले के खिलाफ ईरान ने अमेरिका को धमकी भी दी है. Also Read - Realme 8 5G Price in India: मात्र 14,999 रुपये में मिल रहा है ये 5जी स्मार्टफोन, जानिए क्या हैं इसकी धमाकेदार फीचर्स