कोलकाता: मॉडल से अभिनेत्री बनी उशोशी सेनगुप्ता ने आरोप लगाया है कि काम से घर लौटने के दौरान कुछ अज्ञात शरारती तत्वों ने जवाहरलाल रोड क्रॉसिंग के निकट उसका पीछा किया और उसके साथ अभद्र व्यवहार किया. पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि इस घटना के संबंध में सात लोगों को गिरफ्तार किया गया है. यह घटना सोमवार की रात लगभग 11 बजकर 40 मिनट पर हुई थी.

उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि वह सोमवार को रात करीब 11.40 पर अपना काम खत्म करके घर लौट रही थीं. उनके साथ उनका सहकर्मी भी था. दोनों ने उबर कैब बुक की थी. आधा रास्ता तय करने के बाद कुछ मनचले लड़कों का एक गैंग आया और उसने उशोशी सेनगुप्ता की कैब को बाइक से टक्कर मार दी.

इसके कुछ देर बाद वहां करीब 15 लड़के आ गए और उशोशी सेनगुप्ता के कैब के ड्राइवर को कार से बाहर निकालकर पीटने लगे. उशोशी ने बताया की वह कैब से बाहर निकलकर चिल्लाने लगी और मारपीट का वीडियो भी बनाया. फिर वो सड़क की दूसरी तरफ भागी और एक पुलिसवाले को बुलाने की कोशिश की. इस पर पुलिस अधिकारी ने कहा कि यह उसकी नहीं बल्कि भवानीपुर पुलिस स्टेशन के अधिकार क्षेत्र की घटना है.

हालांकि उशोशी के बार बार गुजारिश करने पर पुलिस ने कुछ लड़कों को पकड़ लिया. लेकिन लड़कों ने पुलिस अधिकारियों को धक्का दिया और वहां से भाग निकले. इसके कुछ समय बाद भवानीपुर पुलिस स्टेशन से दो अधिकारी आए, तब तक 12 बज चुके थे. उशोशी ने ये भी बताया है कि शिकायत दर्ज करने के दौरान कैसे पुलिस ने उन्हें नियम-कायदे बताती रही और ड्राइवर की शिकायत दर्ज करने से भी इनकार कर दिया.

अभिनेत्री उशोशी का यह फेसबुक पोस्ट काफी तेजी से वायरल हो रहा है. उशोशी सेनगुप्ता 2010 में मिस इंडिया यूनिवर्स रही हैं.

(इनपुट – एजेंसी)