अमेरिका के लिए भारत कितना महत्व रखता है उसकी बानगी आज देखने को मिली। अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को एक बड़े अमेरिकन बिजनेस एडवोकेसी ग्रुप ने चिट्ठी लिखी है। इसमें ट्रंप को जीत की बधाई देते हुए निवेदन किया गया है कि अपने कार्यकाल के पहले साल में ही भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आमंत्रित करें। इस चिट्ठी में लिखा गया है कि इस कदम से एक स्पष्ट संदेश जाएगा कि अमेरिका भारत के साथ द्विपक्षीय रिश्ते रखना चाहता है। USIBC (भारत-अमेरिकी बिजनेस परिषद) के अध्यक्ष मुकेश आग़ी ने इस बात की जानकारी दी।

बुधवार को अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव परिणाम आ गए और रिपब्लिकन डोनाल्ड ट्रंप को अमेरिका का 45वां राष्ट्रपति चुना गया। पूरी दुनिया के देश अपने नफे नुकसान का हिसाब लगाने लगे हैं। इधर भारत के लिहाज़ से डोनाल्ड ट्रंप को सही माना जा रहा है। कहा जा रहा है कि स्ट्रैटजी के मामले में भारत को इससे फायदा होगा। ट्रंप अपने चुनाव प्रचार के दिनों में पाकिस्तान,  आतंकवाद और चीन के बारे में बोलते रहे हैं। भारत और अमेरिका के बीच साझेदारियाँ बढ़ सकती है।

यह भी पढेंः अमरिकी चुनाव 2016 परिणामः डोनाल्ड ट्रंप की ऐतिहासिक जीत ने बना दिए कई रिकॉर्ड

डोनाल्ड ट्रंप को लिखी चिट्ठी में कहा गया है कि अपने कार्यकाल के पहले साल में पीएम नरेंद्र मोदी को आमंत्रित कीजिए। इससे द्विपक्षीय संबंधों के महत्व का साफ संदेश जाएगा। USIBC के अध्यक्ष मुकेश अग़ी ने ट्रंप को यह खत उनके अमेरिकी राष्ट्रपति चुने जाने के दूसरे दिन ही लिखा है। उन्होंने कहा कि भारतीय और अमेरिका के बीच व्यापार बढ़ाने पर ध्यान दिया जाना चाहिए।

यह भी पढेंः ‘इवांका अगर बेटी नहीं होती तो उसे भी करता डेट’, डोनाल्ड ट्रंप के ऐसे ही कुछ विवादित बयान