नई दिल्ली: कोरोना वायरस  के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए हर कोई सावधानी बरत रहा है. सरकार और विशेषज्ञ इस महामारी से लड़ने के लिए लगातार ऐसे कई उपाय बता रहे हैं जो हर इंसान घर में बैठ कर आसानी से कर सकता है. इन्हीं एहतियात में सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना भी शामिल है. कभी कभार सैनिटाइजर में एल्कोहल होने की वजह से इसका दुष्प्रभाव भी होता है और इससे आग लगने की आशंका भी रहती है. बीतें दिनों कुछ ऐसी ही अनहोनी हरियाणा के रेवाड़ी में देखने को मिली. Also Read - मेरठ में जुड़वा भाईयों की कोरोना से मौत, साथ हुए पैदा और साथ ही हुई मौत

44 वर्षीय पुरुषसैनिटाइजर से अपने मोबाइल और चाभी जैसे सामानों को साफ़ कर रहा था तब अचानक से सैनिटाइजर ने आग पकड़ ली और व्यक्ति का शरीर 35 फीसदी तक जल गया. जब यह हादसा हुआ तब उसकी पत्नी रसोई में खाना बना रही थी. जब उसके कपड़े में लगी आग से धुंए का गुबार उठने लगा तब पत्नी को मालूम हुआ कि वो जख़्मी हो चूका है. Also Read - Badrinath Temple: ब्रह्म मुहुर्त में खुला बदरीनाथ धाम का कपाट, दर्शन पर फिलहाल रोक

मरीज कोउसके चेहरे, गर्दन, छाती के सामने, पेट और दोनों हाथों में चोट पहुंची है. परिवार वाले घायल को लेकर रविवार रात दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल पहुंचे, जहां उसका उपचार चल रहा है. डॉक्टर्स के मुताबिक मरीज की हालत अभी स्थिर है. Also Read - कोरोना मरीजों को अब नहीं दी जाएगी Plasma Therapy, AIIMS और ICMR ने जारी की नई गाइडलाइन

सर गंगा राम अस्पताल के प्लास्टिक और कॉस्मेटिक सर्जरी विभाग के अध्यक्ष डॉ. महेश मंगल ने कहा, “हालांकि, हैंड सैनिटाइज़र बिल्कुल आवश्यक हैं, हम दृढ़ता से सलाह देते हैं कि एल्कोहल आधारित सैनिटाइज़र का उपयोग बहुत सावधानी से किया जाना चाहिए.किसी भी गर्म स्थान के पास सैनिटाइज़र का उपयोग नहीं करना चाहिए”.