पीएम मोदी की कालेधन पर की गई सर्जिकल स्ट्राइक का असर पूरे देश में कई जगह देखने को मिल रहा है। नोट बैन के बाद कहीं कूड़े के ढेर में नोट मिल रहे हैं, तो कभी गंगा में बहते नोट मिले। मंगलवार को यूपी में एक ऐसा ही मामला सामने आया जहां पर लोग कूड़े के ढ़ेर और नाले में से 1000 के नोट लूटते दिखाई दिए।Also Read - सरकारी नौकरी पानी है तो करने होंगे 'दहेज विरोधी' हलफनामे पर हस्ताक्षर, दहेज प्रथा को रोकने के लिए नई पहल

Also Read - यूपी के अमेठी में बनेंगी 6 लाख AK-203 राइफलें, पुतिन के भारत दौरे पर 5000 करोड़ रुपये की डील पर होंगे साइन

घटना गाजियाबाद के साहिबाबाद की है। यहां मंगलवार शाम थानाक्षेत्र राजेंद्र नगर के पास करीब पांच बजे एक कार सवार युवक छुपकर नोटों को नाले में बहा रहा था। इस युवक पर जैसे ही लोगों की नज़र पड़ी वो नोट लूटने के लिए नाले तक में उतर गए। भीड़ बढ़ती देख युवक तो फरार हो गया लेकिन इस घटना के बाद यहां भीड़ इकठ्ठा हो गयी और लोग नोट ढूंढते रहे। Also Read - PM मोदी कल रखेंगे नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की आधारशिला, देश का पहला नेट जीरो एमिशन विमानतल होगा

सूचना मिलते ही पुलिस पहुची और इस संबंध में एसओ साहिबाबाद सुरेन्द्र यादव का कहना है कि मौके से जो नोट बरामद किए गए हैं वो नकली हैं। अब यह पता लगाने का प्रयास जारी है कि वह कार सवार युवक कौन था। कहा जा रहा है कि नकली नोटों का धंधा करने वाले किसी गिरोह ने पकड़े जाने के डर से नोट फेंके हैं।

यह भी पढ़ें: JK: नगरोटा हमले में 3 आतंकियों की मौत 7 जवान शहीद, सेना ने शुरू किया कॉम्बिंग ऑपरेशन

गौरतलब है कि ऐसी ही एक घटना मंगलवार को यूपी के हरदोई में हुयी जहां एक कूड़े के ढेर में 1000 के नोट मिलने की खबर फैलते ही लूट मच गई। शांति हॉस्पिटल के सामने मंगलवार सुबह कूड़े के ढेर में कटे हुए 1000 के नोट मिले जिन्हें लूटने के लिए लोगों के मारामारी हो गयी। हालांकि यहां मिले नोट भी कटे हुए थे। कटे हुए नोट की सूचना मिलने के बाद मौके पर पुलिस पहुंची। पुलिस के मुताबिक आस-पास लगे CCTV कैमरों की मदद से पता लगाया जा रहा है कि ये यहां किसने फेंके थे।