नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) ने कुख्यात आतंकवादी संगठन आईएसआईएस का सदस्य होने के संदेह पर एक व्यक्ति को मुंबई हवाई अड्डे पर गिरफ्तार कर लिया. अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) आनन्द कुमार ने यहां संवाददाताओं को बताया कि आजमगढ़ जिले के गम्भीरपुर थाना क्षेत्र स्थित झाउ मुहल्ले के रहने वाले अबू जैद नामक संदिग्ध आईएसआईएस आतंकवादी को कल एटीएस ने मुंबई हवाई अड्डे पर गिरफ्तार कर लिया.

टेरर फंडिंग में एनआईए ने और कसा शिकंजा, आतंकी सलाहुद्दीन का बेटा अरेस्ट

टेरर फंडिंग में एनआईए ने और कसा शिकंजा, आतंकी सलाहुद्दीन का बेटा अरेस्ट

उन्होंने बताया कि जैद के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया गया था. वह पिछले एक-डेढ़ साल से वर्क परमिट पर सऊदी अरब की राजधानी रियाज में था. कल उसके मुंबई पहुंचने पर उसे गिरफ्तार कर लिया गया. उससे पूछताछ के बाद ही सारी चीजें साफ होंगी.

कुमार ने बताया कि पिछले अप्रैल में एक आतंकी समूह पकड़ा गया था. जैद उसका प्रमुख आइडियोलॉग (प्रणेता) था. पकड़े गये लोगों में उमर उर्फ नाजिम, गाजीबाबा उर्फ मुजम्मिल, मुफ्ती उर्फ फैजान तथा जखवान उर्फ एहतेशाम शामिल थे. वे लोग सोशल मीडिया पर ग्रुप बनाकर युवाओं को आईएसआईएस तथा अन्य कट्टरपंथी संगठनों की विचारधारा से प्रेरित करने की मंशा रखते थे. इन लोगों के खिलाफ लखनऊ एटीएस थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया था.

उन्होंने बताया कि पकड़े गये उन संदिग्ध आतंकवादियों के मोबाइल फोन जांचने से पता लगा था कि जैद ने आईएसआईएस और अन्य कट्टरपंथी विचारधारा से संबंधित और राष्ट्रविरोधी गतिविधियों से जुड़े संदेश भेजे थे. अभी विवेचना की जाएगी. अभी हमारे आकलन का आधार केवल वॉट्सऐप ग्रुप पर की गयी गतिविधियां हैं. रिमांड पर लेने के बाद उनकी तस्दीक की जाएगी.

कुमार ने बताया कि एटीएस अबू जैद को ट्रांजिट रिमांड पर लखनऊ लाया जा रहा है. यहां उसकी पेशी करने के बाद पुलिस रिमांड पर लिया जाएगा. वह किन-किन वारदात में लिप्त था और किन-किन लोगों को उसने कट्टरपंथी विचारों से ओत-प्रोत किया है, इसकी जानकारी पूछताछ में हासिल की जाएगी.