Corona Virus in Firozabad: उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में कोरोना वायरस से जान गंवाने वाले एक शख्स के शव के अंतिम संस्कार को लेकर जमकर बवाल हुआ. शव की अंत्येष्टि की खबर पाकर लोग सड़क पर उतर आए. यहाँ अंत्येष्टि को लेकर पुलिस, स्वास्थ्य कर्मियों और मृतक के परिजनों को विरोध का सामना करना पड़ा. नारेबाजी के बीच शव को यमुना किनारे ले जाकर अंत्येष्टि करनी पड़ी. Also Read - थूक के इस्‍तेमाल पर रोक से बिगड़ेगा गेंद-बल्‍ले का संतुलन, अनिल कुंबले का सुझाव, पिच में हो बदलाव

मामला फिरोजाबाद जिले के लाइन पार थाना क्षेत्र स्थित छारबाग का है. थाना रसूलपुर के प्रेम नगर डाकबंगला निवासी 33 वर्षीय मनोज कुमार चक की संक्रमण के कारण शुक्रवार को मौत हो गई थी. चक के परिजनों के साथ स्वास्थ्य विभाग की एंबुलेंस देर शाम छारबाग स्थित स्वर्ग आश्रम पर अंत्येष्टि के लिए पहुंची. इसकी जानकारी मिलने पर लोगों ने सड़कों पर उतरकर विरोध करना शुरू कर दिया. कुछ ही देर में सैकड़ों लोग सड़कों पर आ गए . Also Read - रेलवे ने यात्रियों को लौटाए 1885 करोड़ रुपए, कोरोना के चलते रद्द किए गए थे ट्रेनों के टिकट

स्थानीय लोगों ने शव को छारबाग से ले जाने की मांग की और जमकर नारेबाजी की. बाद में वरिष्ठ पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर लोगों को समझाया और शुक्रवार देर रात्रि शव को यमुना किनारे ले जाकर उसकी अंत्येष्टि की गई. बाद में, वरिष्ठ पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों ने मौके पर जाकर स्थिति को संभाला. नगर मजिस्ट्रेट कुंवर पंकज सिंह ने बताया कि समझाने बुझाने पर लोग मान गए थे, लेकिन स्थिति दोबारा ना बिगड़े, इसलिए शव को यमुना किनारे ले जाकर उसकी अंत्येष्टि की गई. Also Read - कोरोना वायरस से हुई पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर की मौत, परिवार ने आनन-फानन में दफनाया