Uttarakhand News: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री और भाजपा नेता तीरथ सिंह रावत को अचानक आज हाई कमान ने दिल्ली बुलाया है. पार्टी हाई कमान के बुलावे पर बुधवार को सीएम रावत दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे. कहा जा रहा है कि राज्य में बुधवार को मुख्यमंत्री रावत के कई कार्यक्रम तय थे. अब  ये सभी कार्यक्रम रद कर दिए गए हैं. बता दें कि सीएम रावत अभी ही प्रदेश भाजपा के तीन दिवसीय चिंतन शिविर से लौटे हैं.Also Read - Viral: शेर-चीता तो छोड़िए पौधों भी होते हैं मांसाहारी, पाले में आते ही जकड़ लेते हैं शिकार

कहीं ये तो बुलावे की वजह नहीं  Also Read - इंसानियत शर्मसार, चलती कार में मां और छह साल की मासूम के साथ हैवानियत

माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री रावत को भाजपा संगठन की ओर से बुलाया गया है, हालांकि क्यों बुलाया गया है उन्हें, इसकी कोई ठोस वजह नहीं बताई जा रही है. सूत्रों का मानना है कि केंद्रीय नेतृत्व मुख्यमंत्री से राज्य में उपचुनाव को लेकर आगे की रणनीति तय कर सकता है, ये वजह इसलिए हो सकती है. क्योंकि प्रदेश में विधानसभा की दो सीटें खाली हैं और  इस मसले पर चिंतन शिविर में भी पार्टी के कोर ग्रुप के कुछ प्रमुख नेताओं के बीच चर्चा हो चुकी है. हो सकता है कि अब इस विषय पर केंद्रीय नेतृत्व मुख्यमंत्री से चर्चा करेगा. Also Read - नैनीताल जिले के दूरस्थ और ग्रामीण इलाको में सोलर वाटर सिस्टम लगाए गये, पानी की किल्लत हुई दूर

चुनाव आयोग ने उपचुनाव पर लगाई है रोक
राज्य में ये भी चर्चा हो रही है कि मुख्यमंत्री रावत खुद गंगोत्री सीट से उपचुनाव लड़ सकते हैं. लेकिन इसमें सबसे बड़ा पेंच चुनाव आयोग की उपचुनाव पर लगी रोक है. मुख्यमंत्री को 10 सितंबर से पहले चुनाव जीतकर चुनकर आना है. हो सकता है इस वजह से उन्हें बुलाया गया हो ताकि इन सभी पहलुओं पर केंद्रीय नेतृत्व और मुख्यमंत्री के बीच चर्चा हो सके.

सीएम रावत आज करने वाले थे महालक्ष्मी योजना का शुभारंभ
बता दें कि मुख्यमंत्री को बुधवार को महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग की महालक्ष्मी योजना का शुभारंभ करना था. इसके साथ ही कई अन्य कार्यक्रम भी आज के लिए तय थे. सभी कार्यक्रमों को रद कर दिया गया है. सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री का दिल्ली का कार्यक्रम अचानक बना है. मुख्यमंत्री कार्यालय के सूत्रों ने इसकी पुष्टि की है.