नई दिल्ली: उत्तराखंड सरकार में वित्त मंत्री प्रकाश पंत का लंबी बीमारी के बाद आज निधन हो गया. उन्होंने अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ टैक्सास के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली. उनका फेफड़े की बीमारी का इलाज चल रहा था. उधर उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गहरा शोक व्यक्त किया है. साथ ही उन्होंने उत्तराखंड में तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है. इस दौरान कल यानी 6 जून को उत्तराखंड के सभी सरकारी एवं अर्धसरकारी कार्यालय बंद रहेंगे.

 

समाचार एजेंसी एएनआई ने मुताबिक, उत्तराखंड के वित्त मंत्री प्रकाश पंत काफी समय से बीमार चल रहे थे. अमेरिका जाने से पहले उनका इलाज राजधानी दिल्ली के राजीव गांधी अस्पताल में हुआ था. वे इस अस्पताल के आईसीयू में भी कुछ दिन भर्ती रहे थे. बता दें कि प्रकाश पंत का जन्म 11 नवंबर 1960 पिथौरागढ़, उत्तराखण्ड में हुआ था. वे पिथौरागढ़ विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से 2002 से 2007 तक निर्वाचित हुए. प्रकाश पंत उत्तराखण्ड सरकार में संसदीय कार्य मंत्री, विधायी कार्य मंत्री, भाषा मंत्री,वित्त मंत्री, व्यावसायिक कर मंत्री, स्टाम्प और पंजीकरण मंत्री, मनोरंजन कर मंत्री, आबकारी मंत्री, पेयजल व स्वछता मंत्री, चीनी एवं गन्ना विकास मंत्री हैं.

 

 

उत्तराखंड के सीएम ने बताया अपूर्णीय क्षति
उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गहरा शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उत्तराखंड में मेरे वरिष्ठ सहयोगी एवं प्रदेश के वित्तमंत्री श्री प्रकाश पंत का अमेरिका में इलाज के दौरान स्वर्गवास होने का समाचार पाकर स्तब्ध भी हूं और व्यथित भी. प्रकाश जी का जाना मेरे लिए व्यक्तिगत एवं अपूर्णीय क्षति है. उनके निधन से हमारा तीन दशक पुराना साथ यादों में रह गया.