देहरादून: उत्तराखंड में करीब 20,000 आंगनवाडी केंद्रों पर ढाई लाख बच्चों को सप्ताह में दो बार 100 मिलीलीटर दूध दिया जाएगा. मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गुरुवार को इसके लिए एक योजना शुरू की. उत्तराखंड में 18,000 बच्चे कुपोषण का सामना कर रहे हैं. रावत ने कहा कि मुख्यमंत्री आंचल अमृत योजना के तहत प्रदेश में संचालित लगभग 20,000 आंगनबाड़ी केंद्रो में आने वाले तीन से छह वर्ष तक की आयु के 2.20 लाख बच्चों को सप्ताह में दो बार 100 मिली दूध उपलब्ध कराया जाएगा.Also Read - बच्चों में 90 प्रतिशत से अधिक प्रभावी है फाइजर की कोरोना वैक्सीन, जानिए कब तक मिलेगी मंजूरी

सीएमने कहा, केवल स्वस्थ बच्चे ही देश का भविष्य स्वस्थ और सुरक्षित बना सकते हैं.’ इस मौके पर राज्य के सहकारिता मंत्री धनसिंह रावत ने कहा कि यह योजना बच्चों के लिये एक बडा उपहार है, वहीं महिला सशक्तिकरण और बाल विकास मंत्री रेखा आर्य ने इसे राज्य में कुपोषण से लड़ने की दिशा में एक बडा कदम बताया. रेखा ने कहा कि उत्तराखंड में 18,000 बच्चे कुपोषण का सामना कर रहे हैं. Also Read - Uttarakhand Flood: भयंकर तबाही, अब तक 34 मौतें, मृतकों के परिवार को 4 लाख की मदद मिलेगी

Also Read - उत्तराखंड में भारी बारिश का Red Alert, गंगोत्री-यमुनोत्री नेशनल हाईवे पर भूस्खलन; बर्फबारी से बढ़ी ठिठुरन