उधमसिंह नगर। पानी के लिए भटक रहे दो हाथी के बच्चों की ट्रेन से कटकर मौत हो गई। घटना उत्तराखंड के उधमसिंह नगर जिले की है। बताया जा रहा है कि हाथी के दो बच्चे अपने झुंड से भटक गए थे। सुबह करीब चार बजे पानी की तलाश में हल्दी रोड स्टेशन से करीब एक किलोमीटर दूरी पर रेल पटरी क्रॉस करने के दौरान हाथी के दोनों बच्चे ट्रेन की चपेट में आ गए।

जानकारी मिलते ही वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। मामले की जानकारी देते हुए टांडा रेंज के रेंजर गणेश चंद्र त्रिपाठी और रुद्रपुर के डिप्टी रेंजर उमेश चंद्र जोशी ने बताया कि दोनों बच्चों की उम्र करीब दो साल है। इस इलाके में हाथी और हथिनी अपने पांच बच्चों के साथ घूमते हुए देखे गए थे। उन्होंने कहा कि पानी की तलाश के दौरान भटकते हुए यह हादसा हुआ। तीन पशु चिकित्सकों के पैनल से मौके पर ही इन हाथियों का पोस्टमार्टम कराया गया। यह भी पढ़ें: उप्र के दुधवा राष्ट्रीय उद्यान में हाथी का शव बरामद

उत्तराखंड के रामनगर स्थित जिम कार्बेट नेशनल पार्क में बड़ी संख्या में वन्यजीव रहते हैं। गर्मीयों के दिनों में पानी की तलाश में अक्सर जानवर जंगल से भटकते हुए मैदानी और शहरी इलाकों में चले जाते हैं। वन विभाग ने इस बात को आधार बनाते हुए कहा है कि हाथी के ये बच्चे भोजन और पानी की तलाश में भटक गए और ट्रेन से टकराने के बाद उनकी दर्दनाक मौत हो गई।