Vaccine Booster Dose: सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute Of India) ने औषधि नियामक से कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए कोविशील्ड को बूस्टर डोज (Covishield Vaccine) के तौर पर मंजूरी देने का अनुरोध किया है. संस्थान ने कहा है कि देश में टीके का पर्याप्त भंडार है और संक्रमण के नए स्वरूप को देखते हुए बूस्टर खुराक की जरूरत है. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि भारतीय औषधि नियामक (DCGI) को भेजी एक अर्जी में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) में सरकार और नियामक मामलों के निदेशक प्रकाश कुमार सिंह ने कहा कि ब्रिटेन की औषधि एवं स्वास्थ्य देखभाल उत्पाद नियामक एजेंसी ने पहले ही एस्ट्राजेनेका की बूस्टर खुराक को मंजूरी दे दी है.Also Read - Corona Vaccine In India Update: बड़ी खबर, Covovax, Corbevax, Molnupiravir को मिली मंजूरी, टीकाकरण की रफ्तार होगी तेज

माना जा रहा है कि सिंह ने अपने पत्र में कहा है कि जब पूरा विश्व महामारी के हालात के जूझ रहा है ,कई देशों ने कोविड-19 टीके की बूस्टर खुराक देनी शुरू कर दी है. एक आधिकारिक सूत्र ने पत्र के हवाले से कहा, ‘हमारे देश के लोग साथ ही दूसरे देशों के लोग जिन्हें Covishield की दोनों खुराकें दी जा चुकी हैं, वे लगातार हमारी कंपनी से बूस्टर खुराक की मांग कर रहे हैं. आप जानते हैं कि अब हमारे देश में कोविशील्ड की कोई कमी नहीं है और महामारी के जारी हालात तथा संक्रमण के नए स्वरूप सामने आने के बाद ऐसे लोग बूस्टर खुराक की मांग कर रहे हैं जिन्हें टीके की दोनों खुराक दी जा चुकी हैं.’ Also Read - Vaccine की दोनों डोज लिये लोगों के लिए सरकार ने जारी किया Universal Pass Cum certificate, ऐसे करें Download 

केंद्र सरकार ने संसद को सूचित किया है कि टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह और कोविड-19 के लिए टीका प्रशासन पर राष्ट्रीय विशेषज्ञ समूह बूस्टर खुराक की आवश्यकता और औचित्य के वैज्ञानिक प्रमाणों पर विचार कर रहे हैं. Also Read - Omicron Scare: मुंबई में नए साल के जश्‍न के कार्यक्रमों पर बैन, दुबई से आने वाले यात्र‍ियों को 7 दिन होम क्‍वारंटीन अन‍िवार्य

(इनपुट: भाषा)