In India, vaccines are in their final trial stage Hopeful that by the end of this month or early next month we should get emergency use authorisation : Dr Randeep Guleria, Director,AIIMS: देश में कोरोना वायरस के इलाज के लिए Corona Vaccine को लेकर बड़ी खबर सामने आई है. एम्‍स (AIIMS Delhi) के निदेशक ने आज गुरुवार को अपने बयान में कहा है कि भारत में हमारे जो वैक्‍सीन हैं, वे फाइनल स्‍टेज में हैं. उम्‍मीद है कि ये इस माह के अंत तक या अगले महीने की शुरुआत में हमें इनके इमजेंसी उपयोग का अधिकार इंडियन रेग्‍युरेटरी अथॉरिटी से जनता को वैक्‍सीन देने की अनुमति मिल जाना चाहिए. Also Read - COVID-19 Latest News: देश में कोरोना के 14,256 नए मामले आए, 13 लाख 90 हजार लोगों को लग चुकी है वैक्‍सीन

डॉ. रणदीप सिंह गुलेरिया ने कहा, ये अच्छी खबर है कि एक वैक्सीन को इतने कम समय में मंजूरी मिल गई है. भारत में वैक्सीन अपने तीसरे चरण में हैं. इस बात का पर्याप्त डाटा है कि वैक्सीन सुरक्षित है. करीब 70,000-80,000 लोगों को वैक्सीन दी गई है. अब तक वैक्सीन का कोई गंभीर विपरीत असर नहीं हुआ है. वैक्सीन से मृत्युदर में कमी आएगी और बड़ी आबादी को वैक्सीन लगाने से हम वायरस के प्रसार की चेन को तोड़ पाएंगे. Also Read - विजय माल्या ने ब्रिटेन में ही रहने का 'एक और विकल्प' आजमाया, क्‍या जल्‍द नहीं हो पाएगा प्रत्‍यर्पण

AIIMS के निदेशक डॉ. गुलेरिया ने कहा, कोल्ड चेन बनाए रखने, उपयुक्त स्टोरहाउस उपलब्ध होने, रणनीति विकसित करने, टीकाकरण और सीरिंज की उपलब्धता के संदर्भ में केंद्र और राज्य स्तर पर टीकाकरण वितरण योजना के लिए युद्ध स्तर पर काम चल रहा है.

बता दें कि इस समय भारत में कोविड-19 के इलाज के लिए 6 वैक्सीन पर ट्रायल चल रहा है, जिनमें ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका और भारत बायोटेक की वैक्सीन फेज-3 ट्रायल्स में हैं.