श्रीनगर. मध्य कश्मीर के बडगाम जिले से सेना का एक जवान शुक्रवार शाम को लापता हो गया. पुलिस को संदेह है कि किसी आतंकवादी संगठन ने उसका अपहरण किया होगा. अधिकारियों ने बताया कि जम्मू कश्मीर लाइट इंफैन्ट्री रेजीमेंट में तैनात मोहम्मद यासीन के परिवार ने पुलिस को सूचना दी कि कुछ लोग काजीपुरा चदूरा में उनके घर आए और यासीन को ले गए.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यासीन छुट्टी पर घर आया था. सेना के जवान का पता लगाने की कोशिशें की जा रही है. इलाके में सभी सुरक्षातंत्रों को एक्टिव कर दिया गया है. उसके घर के आसपास के लोगों से जानकारी जुटाकर तलाश की जा रही है.

एक महीने की छुट्टी पर गया था घर
अधिकारियों के मुताबिक, 26 फरवरी को एक महीने की छुट्टी पर घर गया था. पुलिस और सेना की संयुक्त टीम को उसके गांव भेजी गई है. पुलवाता आतंकी हमले के बाद ऐसे समय में जवान का अपहरण किया गया है जब सीमा पर हालात तनावपूर्ण हैं. इलाके को हाईअलर्टर पर रखा गया है.

औरंगजेब की हुी थी हत्या
बता दें कि इससे पहले जून महीने में जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने अगवा किए सेना के जवान औरंगजेब की हत्या कर दी थी. वह ईद की छुट्टी मनाने घर जा रहे थे. उसके बाद औरंगजेब की मौत से पहले उनका आखिरी वीडियो भी सामने आया था. उस वक्त ऐसा बताया गया कि आतंकियों ने हत्या से पहले ये वीडियो बनाया और उसे सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया था. औरंगजेब 4-जम्मू-कश्मीर लाइट इन्फेंटरी के शादीमार्ग (शोपियां) स्थित 44 राष्ट्रीय राइफल में तैनात थे.