Valentine’s Day: दक्षिणपंथी संगठन श्री राम सेना ने शनिवार को कहा कि वेलेंटाइन डे की जगह 14 फरवरी को वह ‘माता-पिता’ पूजा दिवस मनाएगी.संगठन की तरफ से कहा गया कि वह कर्नाटक के विभिन्न हिस्सों में अपने सदस्यों की तैनाती करेगा जहां वेलेंटाइन डे के नाम पर सार्वजनिक स्थलों पर “अश्लीलता” की आशंका होगी. Also Read - Model With Big Cheeks: तौबा! इतने उभरे गाल, जानें कैसे हो गया ये हाल

संगठन के प्रमुख प्रमोद मुतालिक ने कहा, “हर साल हम पूरे प्रदेश में ‘माता-पिता’ पूजा का आयोजन करते हैं. हम 50 से 60 जगहों पर इस कार्यक्रम का आयोजन करेंगे.” मुतालिक ने कहा कि पब, बार, मॉल, आइसक्रीम पॉर्लर और पार्क जैसी जगहों पर संगठन के स्वयंसेवक रहेंगे जिससे यह सुनिश्चित हो सके कि सार्वजनिक स्थलों पर कोई अश्लीलता नहीं हो. Also Read - पापा बनने वाले हैं Yuvraj Singh! हेजल कीच का नया वीडियो सामने आने के बाद, शुरू हो गई चर्चा

उन्होंने स्पष्ट किया कि संगठन के सदस्य कानून अपने हाथों में नहीं लेंगे और ऐसी घटनाओं को रोकने में पुलिस के साथ मिलकर काम करेंगे. Also Read - West Bengal Assembly Election 2021: भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक थोड़ी देर में, पीएम मोदी और शाह की मौजूदगी तय होंगे कैंडिडेट्स

श्रीराम सेना की हुब्बली इकाई ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा, “पश्चिमी संस्कृति युवाओं को अपनी तरफ आकर्षित करने का प्रयास कर रही है जिसका हमारी अमूल्य विरासत पर विपरीत असर पड़ रहा है और इससे मादक द्रव्य, सेक्स और लव जिहाद आदि का चलन बढ़ रहा है जो अस्वीकार्य है.”

इस बीच बेंगलुरु के पुलिस आयुक्त कमल पंत ने कहा, “हम किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने की इजाजत नहीं देंगे. अगर किसी को शिकायत है तो उन्हें हमारे पास आने दीजिए.”

(इनपुट भाषा)