DLs, RCs, Permits validity extended: सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने कोरोनावायरस महामारी के मद्देनजर ड्राइविंग लाइसेंस की वैधता और मोटर वाहनों के आवश्यक दस्तावेजों को 31 मार्च 2021 तक विस्तार देने का फैसला किया है. एक आधिकारिक बयान में रविवार को यह जानकारी दी गई. पहले दस्तावेजों की वैधता 30 सितंबर और उसके बाद 31 दिसंबर 2020 तक बढ़ाई गई थी, जिसे अब अगले साल मार्च के अंत तक विस्तार दे दिया गया है. Also Read - कोलकाता: कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद बेहोश हुई 35 वर्षीय नर्स, जांच में लगाए गए विशेषज्ञ

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने कहा, “DLV, RC, परमिट जैसे वाहनों के दस्तावेजों की वैधता COVID19 के प्रसार को रोकने की आवश्यकता के मद्देनजर 31 मार्च 2021 तक बढ़ा दी गई है. मंत्रालय ने आज इस संबंध में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को एक निर्देशिका जारी की है.” Also Read - Vaccination Suspended in Maharashtra: महाराष्ट्र में भी रोका गया कोविड-19 वैक्सीनेशन प्रोग्राम, जानें अब वैक्सीन लगेगी या नहीं..?

बयान में कहा गया है, “सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने मोटर वाहन अधिनियम, 1988 और केंद्रीय मोटर वाहन नियम, 1989 के तहत फिटनेस, परमिट, लाइसेंस, पंजीकरण या अन्य दस्तावेजों की वैधता को 31 मार्च 2021 तक बढ़ाने का फैसला किया है.” Also Read - COVID-19 Vaccination in India: इस राज्य में रोका जाएगा कोरोना टीकाकरण, जानिए क्या है वजह?

मंत्रालय ने आगे सलाह दी है कि सभी संबंधित दस्तावेज जिनकी वैधता का विस्तार राष्ट्रव्यापी बंद के कारण नहीं हो सका या होने की संभावना नहीं है और जिन दस्तावेज की वैधता एक फरवरी, 2020 से समाप्त हो गई है या 31 मार्च, 2021 तक यह समाप्त हो जाएगी, इन्हें 31 मार्च 2021 तक वैध माना जाएगा.

प्रवर्तन अधिकारियों को सलाह दी गई है कि वे ऐसे दस्तावेजों को 31 मार्च, 2021 तक वैध मानें.

(इनपुट आईएएनएस)