नई दिल्ली: वाराणसी-दिल्ली वंदे भारत एक्सप्रेस में आई तकनीकी खामी की वजह से यात्रियों को करीब एक घंटे तक एसी, पंखे और प्रकाश के बिना काम चलाना पड़ा. अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी. ट्रेन में बिजली मुहैया कराने वाले कन्वर्टर फेल होने से यात्रियों को यह परेशानी हुई. उन्होंने बताया कि ट्रेन के एसी ने इलाहाबाद पहुंचने से 10 मिनट पहले शाम चार बजकर 50 मिनट पर काम करना बंद कर दिया. इस खामी को ठीक करने के बाद ट्रेन शाम छह बजे रवाना हुई. इस दौरान ट्रेन में मूलभूत सुविधाएं मौजूद नहीं थी.Also Read - Vande Bharat Turns Vegetarian: माता वैष्णो देवी जाने वाली वंदेभारत एक्सप्रेस, होंगी शुद्ध शाकाहारी | Watch Video

Also Read - Indian Railways/IRCTC Latest News: अगले साल की शुरुआत में नई वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन की शुरुआत करेगा इंडियन रेलवे

Vande Bharat Express: यहां जानिए किराए से लेकर टाइमिंग तक नई वंदे भारत एक्सप्रेस से जुड़ी हर बात Also Read - IRCTC/Indian Railways: New Delhi-Varanasi वंदे भारत Express को लेकर रेलवे ने किया यह बड़ा फैसला, जानें क्या होगा बदलाव

इससे पहले मार्च में रेलवे की इस महत्वाकांक्षी ट्रेन में आंशिक तौर पर आग लग गई थी. इस साल की शुरुआत में इस स्वचालित इंजन रहित ट्रेन सेट का निर्माण भी रोक दिया गया क्योंकि ऐसे आरोप लग रहे थे निर्माण में पारदर्शिता नहीं है और पक्षपात हो रहा है. कुछ दिनों पहले ही केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से दिल्ली-कटरा वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई थी. और कहा था कि यह जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए एक ‘‘बड़ा उपहार’’ है. शाह ने कहा था, ‘‘दिल्ली-कटरा वंदे भारत एक्सप्रेस जम्मू-कश्मीर के विकास और धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए एक बड़ा उपहार है.’’ इस मौके पर शाह के साथ रेल मंत्री पीयूष गोयल और केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह एवं डॉ. हर्षवर्धन मौजूद थे.