नई दिल्ली. राजस्थान में लोकसभा की दो सीटों और विधानसभा की एक सीट के उपचुनावों में भाजपा की हार के बाद सीएम वसुंधरा राजे ने आज वर्ष 2018-19 का ‘चुनावी’ बजट पेश किया. इसमें जहां एक तरफ राज्य के युवाओं को रोजगार देकर उनका मन मोहने की कोशिश की गई है, वहीं दूसरी ओर किसानों को कर्ज माफी का तोहफा दिया गया है. राजस्थान के बजट में वसुंधरा राजे ने किसानों का 50 हजार रुपए तक का लोन माफ कर दिया है. इससे राज्य के खजाने पर 8 हजार करोड़ का बोझ पड़ेगा. वहीं, प्रदेश में रोजगार बढ़ाने के मामले में सीएम ने एक लाख से ज्यादा भर्तियां करने की योजना प्रस्तावित की है. इसके तहत 1161 कांस्टेबल भर्ती किए जाएंगे. शिक्षा विभाग में 77 हजार नई भर्तियां की जाएंगी. दो हजार नए पटवारी भी भर्ती किए जाएंगे. इसके अलावा एक हजार नर्सिंग ट्रेनिंग टीचर भी भर्ती किए जाएंगे. बजट में कोई नया टैक्स नहीं लाया गया है।

बजट में की गई प्रमुख घोषणाएं
– स्कूलों में स्मार्ट क्लासरूम विकसित किए जाएंगे. आईटीआई की परीक्षाएं अब ऑनलाइन होंगी. राज्य के आईटीआई डिजिटल इंडिया योजना से जोड़े जाएंगे. मदरसों के आधुनिकीकरण के लि 25 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे. कॉलेजों में फ्री वाईफाई सुविधा.
– एसजीएसटी के तहत राज्य सरकार को फायदा हुआ है. 90 प्रतिशत वस्तुओं पर टैक्स में कमी आई है. जीएसटी के तहत राज्य में करीब दो लाख टैक्सपेयर्स ने रजिस्ट्रेशन कराया है.
– एसएमएस में ओलंपिक साइज के पूल के लिए राशि दी जाएगी. रतनगढ़ में नया स्टेडियम बनेगा.
– खेल प्रतिभाओं को प्रोत्साहन देने के लिए यूथ आइकन स्कीम लागू होगी.
– पूर्व उपराष्ट्रपति भैरोसिंह शेखावत के नाम पर अंत्योदय योजना लागू होगी, जिसके तहत 50 हजार अंत्योदय परिवारों को 50 हजार रुपए तक का लोन दिया जाएगा.
– 7 लाख नए बिजली कनेक्शन जारी किए जाएंगे. जगतपुरा शूटिंग रेंज के लिए 5 करोड़ रुपए दिए जाएंगे. नीम का थाना में नया स्टेडियम बनेगा.
– राजस्थान लोकसेवा आयोग के परीक्षार्थियों को रोडवेज की बस में मुफ्त यात्रा की सुविधा. अलवर में नया कृषि विश्वविद्यालय खुलेगा.
– सस्ते मकानों के लिए राज्य सरकार ने डीएलसी दरों में 10 प्रतिशत तक की कटौती की है. प्रदेश में व्यापारी कल्याण बोर्ड की स्थापना होगी. इसके लिए 10 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है.
– कोटा के पत्थरों पर जीएसटी कम किया जाएगा.
– आमेर फोर्ट को आइकॉनिक टूरिज्म में शामिल किया जाएगा. इसके लिए 20 करोड़ रुपए दिए जाएंगे. प्रदेश के 19 स्मारकों के संरक्षण पर 35 करोड़ रुपए खर्च होंगे.
– नगरपालिकाओं को सड़कों के लिए 2 हजार करोड़ रुपए देने की घोषणा. हर निकाय में अंबेदकर भवन बनेंगे. हर जिला मुख्यालयों पर शहीद स्मारक बनेंगे. शहीद सैनिकों के आश्रितों के लिए 25 लाख 80 हजार रुपए दिए जाएंगे.
– जयपुर में 40 नई इलेक्ट्रिक बसें चलेंगी. अन्नपूर्णा योजना का विस्तार होगा. नालियों-सड़कों की मरम्मत के लिए एक हजार करोड़ की घोषणा.
– भामाशाह कार्डधारकों के लिए एक लाख तक का फ्री बीमा.
– सुंदर सिंह भंडारी स्वरोजगार योजना की घोषणा, इसके तहत 50 हजार रुपए का लोन दिया जाएगा. पिछड़ा वर्ग के लोगों के लिए गए स्वरोजगार के लोन माफ.
– अंडर 19 वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम के सदस्य जयपुर के क्रिकेटर कमलेश नागरकोटी को 25 लाख रुपए देने की घोषणा.
– देश में पहली स्किल यूनिवर्सिटी खोली जाएगी.
– दिल्ली जाने वालों के लिए जयपुर के रामनिवास बाग में अंडरपास बनेगा. पुराने जयपुर की रौनक लौटेगी.
– ड्राइविंग लाइसेंस और गाड़ी रजिस्टर कराने की प्रक्रिया को पेपरलेस किया जाएगा.
– फसलों के मूल्य समर्थन खरीद के लिए 500 करोड़ का इंटरेस्ट फ्री लोन दिया जाएगा. जल हौज निर्माण के लिए 90 हजार का अनुदान.
– कृषि सबंधी कार्यों में गौवंश को बढ़ाने के लिए प्रत्येक जिले में नंदी गोशाला बनेगी।