नई दिल्ली. राजस्थान की झालरापाटन सीट से सीएम वसुंधरा राजे सिंधिया ने जीत दर्ज की है. वह इस सीट पर चौथी बार जीत दर्ज की हैं. साल 2003 से वह इस सीट पर जीतती आ रही हैं. इस बार यह सीट काफी चर्चित रही है. इस सीट पर कांग्रेस ने पूर्व बीजेपी नेता जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र सिंह को उतारा था. ऐसे में यह चुनाव काफी दिलचस्प हो गया था.

झालरापाटन की सीट पर करीब दो लाख 73 हजार मतदाता हैं. सबसे अधिक 45,000 मुसलमान हैं. इसके अलावा 17000 राजपूत, 20000 डांगी, अनुसूचित जाति 35000, अनुसूचित जनजाति 10,000, ब्राह्मण 28000, गुर्जर 22,000 और पाटीदार 30,000 मतदाता हैं. मानवेंद्र सिंह को उम्मीद थी कि मुस्लिम और राजपूत वोटर्स उनके साथ एक तरफा खड़े हो जाएंगे. वहीं, दूसरी जातियां कांग्रेस को वोट देती रही हैं. ऐसे में वह लगातार जीत का दावा कर रहे थे.

पिछले विधानसभा चुनाव में झालावाड़ सीट से राजे ने कांग्रेस की मीनाक्षी चंद्रावत को 60896 वोट से हराया था. राजे को 114384 और मीनाक्षी को 53488 वोट मिले थे. बता दें कि मीनाक्षी हरीगढ़ के पूर्व महाराजा धनसिंह चंद्रावत की बेटी हैं.

मानवेंद्र पिछली बार शिव सीट से विधायक थे. वह बाड़मेर-जैसलमेर लोकसभा क्षेत्र से सांसद भी रह चुके हैं. साल 2004 के लोकसभा चुनाव में मानवेंद्र सिंह के नाम सबसे ज्यादा मतों से जीतने का रिकॉर्ड है. सिंह ने उस समय 2,72000 से भी अधिक मतों से जीत दर्ज की थी.