नई दिल्लीः शुक्रवार को हैदराबाद पुलिस ने वेटनरी डॉक्टर से रेप और मर्डर करने वाले चारों आरोपियों को एनकाउंटर में मार गिराया. पुलिस ने यह एनकाउंटर उसी जगह पर किया जहां पशु चिकित्सक महिला डॉक्टर के साथ गैंगरेप हुआ था. हैदराबाद की जनता पुलिस कि इस कार्रवाई से खुश है और पुलिस कमिश्नर के साथ-साथ पुलिसकर्मियों की जय-जय कर रही है.

आपको बता दे कि यह पहला ऐसा मौका नहीं जब साइबराबाद के पुलिस कमिश्नर वी सी सज्जनर ने इस तरह का कदम उठाया हो. 2008 में वारंग एसिड अटैक में तीन छात्रों का एनकाउंटर किया था. उस वक्त भी घटना स्थल पर आरोपियों को ले जाकर मार गिराया गया था. हैदराबाद गैंगरेप के आरोपियों को पुलिस ने घटना के 60 घंटे के भीतर ही पकड़ लिया था .

शुक्रवार की सुबह पुलिस सभी आरोपियों को घटना स्थल पर सीन रीक्रिएट करने के लिए ले गई थी लेकिन वहां से सभी आरोपियों ने भागने की कोशिश की जिसके जवाब में पुलिस को एनकाउंटर करना पड़ा

हैदराबादः वेटनरी डॉक्टर से जहां हुआ था रेप, वहीं पुलिस ने चारों आरोपियों को किया ढेर

दरअसल, 2008 के दिसंबर महीने में वारंगल के मामोनूर में इंजीनियरिंग की दो लड़की पर एसिड फेंका गया था. इस घटना के कुछ ही घंटों के बाद पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था. इस घटना को लेकर लोगों में काफी आक्रोश था. उस वक्त वारंगल के पुलिस अधीक्षक वीसी सजन्नार (V.C. Sajannar) ही थे. उस वक्त भी पुलिस ने आरोपियों को घटना स्थल पर ले गई थी. घटना स्थल पर ही उनका एनकाउंटर कर दिया गया था.

हैराबाद में रेप आरोपियों का एनकाउंटर: स्‍कूली लड़कियों ने पुलिस को देख ऐसे किया रिएक्‍ट, देखें VIDEO

उस वक्त पुलिस ने कहा था कि आरोपियों ने घटना स्थल पर देसी पिस्तौल छिपा रखा था. उसी से उनपर फायरिंग की गई. जवाब में पुलिस की कार्रवाई में उस वक्त तीनों आरोपी मारे गए थे. सजन्नार के नेतृत्व में वारंगल पुलिस ने घटना के 48 घंटे के भीतर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था.