बेंगलुरु: वरिष्ठ कांग्रेस नेता एम वीरप्पा मोइली एक ट्वीट को लेकर विवादों में फंसते नजर आ रहे हैं. उन्होंने कहा है कि कर्नाटक में आगामी चुनाव में पार्टी टिकट को लेकर निर्णय लेने में रुपए की भूमिका होगी. हालांकि उन्होंने इस ट्वीट को पोस्ट करने की बात से इनकार किया है. उन्होंने कहा,‘‘ मैंने ऐसा नहीं किया है.’’ Also Read - अहमद भाई के बाद कौन होगा कांग्रेस का अगला कोषाध्यक्ष, इन 4 नामों पर हो रही चर्चा

एक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया है, ‘‘ भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस को राजनीति करने के लिए रुपए की जरूरत पड़ती है. हम आगामी विधानसभा चुनावों में उम्मीदवारों के चयन को लेकर ठेकेदारों और राज्य के पीडब्ल्यूडी मंत्री के साथ उनके गठजोड़ को बर्दाश्त नहीं कर सकते.’’ Also Read - कांग्रेस में छिड़ी 'वाक युद्ध', गुलाम नबी आजाद के बयान पर मचा बवाल, पार्टी के नेता बोले- गुलाम को आजाद करें

हालांकि यह ट्विटर हैंडल वेरिफाइड नहीं है. इस ट्वीट के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद राजनीतिक गलियारों में सरगर्मियां तेज हो गयीं. मोइली से जब पीटीआई ने संपर्क किया तो उन्होंने कहा कि ‘यह गलती किसी और ने की’’. Also Read - कांग्रेस की अंदरूनी कलह आई सामने, कपिल सिब्बल बोले- मैं कार्यकर्ताओं की उठा रहा आवाज

उन्होंने कहा,‘‘ उस ट्विटर हैंडल को मैं संचालित नहीं करता. यह सही( ट्वीट) नहीं है. मैं इसे वापस लेता हूं.’’ वह विधानसभा चुनावों में घोषणापत्र समिति के प्रमुख हैं. कर्नाटक में विधानसभा चुनाव इसी साल अप्रैल या मई में होने की संभावना है. सत्तारूढ़ कांग्रेस के लिए चुनौतियां ज्यादा हैं क्योंकि बीजेपी हर हाल में उसे राज्य की सत्ता से बेदखल करना चाहती है. इसी मकसद से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके कैबिनेट सदस्यों के राज्य में लगातार दौरे हो रहे हैं.