प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी की बिहार में होनेवाली रैली के स्थल में बदलाव की खबर आ रही है। बिहार में होनेवाली एक रैली के स्थल के रूप में बिहार के सुलतानपुर को चुना गया था, पर किसानों ने अपनी ज़मीने इस रैली के लिए देने से इनकार कर दिया। हालंकि किसानों को इसके एवज़ में बड़ी रकम देने की बात कही गई थी, पर इसके बावजूद किसानों ने इस ज़मीन को देने से इनकार कर दिया।

असल में पीएम मोदी की बिहार रैली 12 मार्च को होनेवाली थी, जहाँ वे पटना उच्च न्यायालय के शताब्दी वर्ष समापन समारोह में भाग लेने के बाद वे कई और कार्यक्रमों में भाग लेने जाने वाले हैं। जिसके लिए सुल्तानपुर गांव के किसानो से करीब 60 एकड़ ज़मीनों की मांग की गई थी, पर समय से पहले किसानों ने रैली के लिए कच्ची फसल काटने से इनकार कर दिया। और यही वजह है कि अब पीएम मोदी के रैली का स्थान बदलकर अब छौकिया कर दिया गया है। अब प्रधानमन्त्री सुल्तानपुर के बजाय छौकिया जिले में रैली को संबोधित करेंगे। बता दें कि इस रैली के लिए प्रशासन ने किसानों से फसल काटकर रैली के लिए जगह बनाने का आदेश दिया था। लेकिन खेत खली करने के लिए किसान राज़ी नहीं हुए, जिसके बाद पीएम मोदी के कार्यक्रम का स्थल बदल दिया गया।

ये भी पढ़ें: बिहार : राहुल की रैली को लेकर सुरक्षा कड़ी

इस मामले की जानकारी देते हुए BJP के प्रदेश अध्यक्ष मंगल पांडेय ने बताया कि पीएम मोदी 12 मार्च को बिहार में रैली को संबोधित करनेवाले हैं, जिसके बाद वे वैशाली जिले के हाजीपुर में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होंगे। इस दौरे में पीएम मोदी दीघा-सोनपुर पुल राष्ट्र को समर्पित करेंगे और इसके बाद वे कई और योजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन भी करेंगे।