हैदराबाद। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एम वीरप्पा मोइली ने आज कहा कि भाजपा बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के हितों को कमतर कर रही है तथा यदि उनकी पार्टी जदयू राज्य में राजग सरकार से अलग होती है तो कोई आश्चर्य नहीं होना चाहिए. पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने दावा किया कि टीडीपी, शिवसेना और जेडीएस सहित जो भी पार्टी भाजपा के साथ गई , वह बिल्कुल भी खुश नहीं है. Also Read - राहुल गांधी का मोदी सरकार पर हमला, बोले- जब जब देश भावुक हुआ, फाइलें गायब हुईं

Also Read - पंजाब में कांग्रेस का कलह: MP प्रताप सिंह बाजवा के बागी बोल, अमरिंदर सरकार वापस लेगी सिक्‍युरिटी

मोइली ने पीटीआई भाषा से कहा कि उन्हें (नीतीश) लेकर वे (भाजपा) उनके हितों को कमतर कर रहे हैं. इससे नीतीश की छवि को खासा नुकसान पहुंचा है. अगरवह अलग हटते हैं तो कोई आश्चर्य की बात नहीं है. Also Read - कांग्रेस को फिर लगा बड़ा झटका, पूर्व मंत्री सहित दो बड़े नेताओं ने छोड़ी पार्टी, भाजपा में हुए शामिल

नीतीश का हमला

बता दें कि हाल के कुछ समय में नीतीश ने बीजेपी पर इशारों इशारों में हमला बोला है. नीतीश ने नोटबंदी से लेकर सीट बंटवारे पर बीजेपी को खरी खरी सुनाई. इस बीच नीतीश ने लालू प्रसाद यादव को फोन भी किया. लालू यादव इलाज के सिलसिले में मुंबई में थे इसी दौरान उन्हों फोन किया. गौर करने लायक बात ये है कि भ्रष्टाचार के मुद्दे पर नीतीश ने आरजेडी से नाता तोड़कर बीजेपी संग मिलकर सरकार बनाई थी. इधर लालू यादव को चारा घोटाले में जेल हुई.

एनडीए में रार! बिहार में 40 सीटें, 22 पर लड़ेगी बीजेपी, जेडीयू ने ठोका है 25 पर दावा

उधर, 2019 चुनाव की आहट आते आते बीजेपी-जेडीयू में तलवारें खिंचने लगीं. सीट बंटवारे पर अभी से संग्राम छिड़ा हुआ है. जेडीयू ने 25 सीटों पर चुनाव लड़ने की बात उछाली तो बीजेपी की तरफ से कहा गया कि पिछली बार उसने जितनी सीटें जीतीं उनपर वह लड़ेगी.

(भाषा इनपुट)