नई दिल्लीः राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने देश में कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा लगातार गहराने का हवाला देते हुये गुरुवार को उच्च सदन में सभी सदस्यों से इसके बचाव को लेकर सावधानी बरतने के लिये लोगों को जागरुक करने में सक्रिय सहयोग की अपील की. Also Read - कोरोना पीड़ितों की मदद पर सोना ने दिया ट्रोलर्स को जवाब, कहा- 'दान करती हूं, पब्लिसिटी नहीं'

नायडू ने राज्यसभा की बैठक शुरु होने पर सदस्यों से कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने भी कोरोना वायरस के कारण वैश्विक स्तर पर ‘महामारी’ की स्थिति घोषित कर दी है. उन्होंने मौजूदा स्थिति का जिक्र करते हुये कहा कि सभी सदस्यों की यह जिम्मेदारी है कि वे अधिक से अधिक संख्या में लोगों तक पहुंच कर उन्हें यथासंभव सभी सावधानियां बरतने के बारे में अवगत करायें. Also Read - कोरोना वायरस: कार्तिक आर्यन ने प्रधानमंत्री राहत कोष में दान किए इतने करोड़ रुपए, लिखा- आज मैं जो कुछ भी हूं...

नायडू ने सदस्यों से सार्वजनिक जीवन में लोगों से मिलते समय खुद भी सावधानी बरतने का अनुरोध किया. उन्होंने देश और देश के बाहर भ्रमण करने वाले सदस्यों से खासतौर पर सावधानी बरतने की अपील की. उल्लेखनीय है कि स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना वायरस के संक्रमण की 73 मामलों में अब तक पुष्टि हो गयी है. Also Read - करण जौहर के बेटे यश ने कहा, 'COVID-19' को भगा सकता है बॉलीवुड का ये स्टार

बता दें कि नब्बे से अधिक देशों में कोरोना वायरस से 1,10,041 लोग संक्रमित पाए गए हैं और इससे 3,825 लोगों की मौत हुई है. ईरान में लगभग 2,000 भारतीय रह रहे हैं, जहां सात हजार लोग इस वायरस से संक्रमित पाए गए हैं और 237 लोगों की मौत हुई है. अब तक 8,255 उड़ानों से आए 8,74,708 अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की हवाईअड्डों पर जांच की गई है जिनमें से 1,921 यात्रियों में लक्षण नजर आए थे..