नई दिल्ली: उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने शनिवार को अयोध्या में बाबरी मस्जिद प्रकरण पर उच्चतम न्यायालय के फैसले को भारत की विजय का प्रतीक बताते हुए कहा है कि इस फैसले से सौहार्द से साथ में रहने की हमारी भावना की जीत हुई है.


नायडू ने ट्वीट कर कहा कि आज उच्चतम न्यायालय की पांच न्यायाधीशों की पीठ द्वारा अयोध्या मामले पर सर्वसम्मति से दिए फैसले के बाद, आवश्यक है कि हम पिछले विवादों को भूल कर भविष्य के सहिष्णु, सौहार्दपूर्ण, संपन्न और शांत भारत के निर्माण के लिए संकल्पबद्ध हों.

उन्होंने कहा कि इस निर्णय से सिर्फ भारत की विजय हुई है. सौहार्द से साथ में रहने की हमारी भावना की जीत हुई है. किसी भी प्रकार का भेदभाव हमारी साझा ऊर्जा और क्षमताओं का क्षय करता है. हमारी इस महान भूमि में सभी को समाहित करने की क्षमता है, सभी के लिए सम्मान है.

उपराष्ट्रपति ने देश में सभी पक्षों से शांति और सौहार्द बनाये रखने की अपील करते हुए कहा कि आइए हम सब मिलकर शांति और संपन्नता की ओर बढ़ें और अपनी साझा सांस्कृतिक धरोहर को और समृद्ध करें.