नई दिल्ली: भारतीय वायु सेना (IAF) ने शुक्रवार को केदारनाथ के ऊंचाई वाले क्षेत्र से एक दुर्घटनाग्रस्त हेलीकॉप्टर को बेहद ही चैलेंजिंग ऑपरेशन में रेस्क्यू किया. यही नहीं सेना ने अपने हेलीकॉप्टर से उस दुर्घटनाग्रस्त हेलीकॉप्टर को देहरादून तक पहुंचाया. एक बयान में, IAF के एक प्रवक्ता ने कहा, “26 अक्टूबर, 2019 को, भारतीय वायुसेना के हेलीकॉप्टरों को केदारनाथ के एक बेहद ऊंचाई वाले क्षेत्र से UTair Private Limited के एक दुर्घटनाग्रस्त हेलीकॉप्टर को रेस्क्यू करने का बहुत ही चुनौतीपूर्ण काम दिया गया था.”

खबरों के मुताबिक, कुछ दिन पहले केदारनाथ मंदिर से कुछ ही दूरी पर केदारनाथ हेलीपैड के करीब 11,500 फीट की ऊंचाई पर यह हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. हालांकि केदारनाथ तक केवल पैदल ट्रैक संपर्क के कारण मलबे को निचले क्षेत्र में पहुंचाना संभव नहीं था. जिसके बाद कंपनी ने भारतीय वायुसेना से अनुरोध किया कि वह महीने के अंत में मंदिर के बंद होने से पहले दुर्घटनाग्रस्त हेलीकॉप्टर को निकालने में मदद करें.

जिसके बाद 26 अक्टूबर की सुबह वायुसेना की ओर से दो मिग-17 की 5वीं यूनिट के हेलीकॉप्टर को कार्रवाई में लगाया गया. सेना के एक हेलीकॉप्टर ने लॉजिस्टिक सपोर्ट दिया तो, वहीं दूसरे ने हेलीकॉप्टर ने दुर्घटनाग्रस्त हेलीकॉप्टर को वहां से खाली किया. वायुसेना ने दुर्घटनाग्रस्त हेलीकॉप्टर को अपने हेलीकॉप्टर में बांध के ऊपर उठाया और सुरक्षित तरीके से देहरादून के पास सहस्त्रधारा तक पहुंचाया. सेना के इस पराक्रम को देखकर हर कोई सलाम कर रहा है.

देखें वीडियो-