नई दिल्ली. विशेष पीएमएलए अदालत ने भगोड़े अपराधी अध्यादेश के तहत विजय माल्या को 27 अगस्त को तलब किया है. वहीं, दूसरी तरफ माल्या ने ट्वीट करके कहा, मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार एक ईडी अधिकारी ने कहा कि मैं सौदेबाजी करने की कोशिश कर रहा हूं.

विजय माल्या ने ट्वीट किया, ईडी अधिकार ने कहा है कि मैं सौदेबाजी करने की कोशिश कर रहा हूं. मैं पूरे सम्मान के साथ वे पहले ईडी की चार्जशीट को अच्छी तरह से पढ़ लें. मैं ईडी से यह भी कहना चाहूंगा कि यही बात उनके सामने भी कहें, जिनसे मैंने सौदेबाजी की कोशिश की थी.

बता दें कि विजय माल्या ने बिजनेस अखबार इकॉनमिक टाइम्स की उस रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिसमें ईडी के एक अधिकारी के हवाले से कहा गया था कि माल्या सौदेबाजी की कोशिश कर रहे हैं. इसमें ये भी कहा गया था कि ये कोशिश भारत में काम नहीं करेगा.

दूसरी तरफ विजय माल्या ने कहा था कि वह बैंकों का कर्ज नहीं चुकाने वालों की पहचान बन गए हैं और उनके नाम से लोगों का गुस्सा भड़क जाता है. उन्होंने यह भी कहा कि बैंकों का बकाया चुकाने के उनके प्रयासों में यदि राजनीतिक रूप से प्रेरित बाहरी तत्वों का हस्तक्षेप होता है तो वह इस मामले में ज्यादा कुछ नहीं कर सकते हैं.

किंगफिशर एयरलाइन से जुड़े बैंकों के 9,000 करोड़ रुपये के डिफाल्ट मामले से जुड़े विवाद पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुये माल्या ने इस आरोप से इनकार किया कि उन्होंने जानबूझकर बैंकों का कर्ज नहीं चुकाया. सरकार और उसकी आपराधिक जांच एजेंसियों की ओर से लगातार दबाव झेल रहे माल्या ने कहा कि उन्होंने अपनी बात रखने के लिये प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री दोनों को 15 अप्रैल 2016 को पत्र लिखे. उन्होंने कहा, ‘‘किसी से भी उन्हें कोई जवाब नहीं मिला.’’